मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, धनबाद: धनबाद उपायुक्त ने गुरुवार को अपनी बात कार्यक्रम की शुरुआत की। इस दौरान उन्होंने एक घंटे में जिले भर के 42 लोगों से बात की व उनकी समस्याएं सुनी। उन्होंने कई लोगों को कार्यालय आकर मिलने को कहा तो कई की समस्याओं का समाधान तत्काल किया। संबंधित अधिकारियों से फोन पर बात कर त्वरित निष्पादन का निर्देश दिया।

उपायुक्त ने कई लोगों से यह भी पूछा कि आपके यहां शौचालय बना है या नहीं। यदि शौचालय बना है तो उसे आप इस्तेमाल कर रहे हैं या नहीं। उन्हें नियमित चावल मिल रहा है। गांव की क्या समस्या है, उसे बताएं।

कई कॉलरों को उन्होंने मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना के संबंध में भी पूछा। नोटिस का तामिला हुआ है या नहीं, फसल का बीमा कराया है या नहीं, गांव में नाली व पेयजल की क्या व्यवस्था है।

कार्यक्रम के समापन के बाद उपायुक्त ने कहा कि अब प्रत्येक सप्ताह अपनी बात कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। हर शनिवार को 9470554487 नंबर पर अलग-अलग विभाग के पदाधिकारी सीधे जनता से संवाद करेंगे।

अब वाट्सएप पर भी कर सकेंगे अपनी बात: उपायुक्त ने कहा कि अब सोशल नेटवर्किंग साइट वाट्सएप के माध्यम से भी जनता के सवालों को और समस्याओं को प्राप्त किया जाएगा। समस्या को संबंधित अधिकारी के पास भेजा जाएगा। जिससे समस्या के निष्पादन में गति आ सके।

कुछ प्रमुख मामले जिनका त्वरित निष्पादन किया गया

- कुमारजोरी पंचायत निवासी हरि सिन्हा ने बताया कि पत्‍नी गर्भवती है। पीएचसी बाघमारा में जांच कराने गया तो बताया गया कि तीन जांच में से एक निश्शुल्क होगा। अन्य दो का शुल्क देना होगा।

उपायुक्त ने उन्हे निर्देश दिया गया कि संबंधित पीएचसी में सभी जांच निश्शुल्क होगा आप वहां जाएं। साथ ही फोन से पीएचसी प्रभारी को सूचित किया गया।

- मोहन साव पूर्वी टुंडी हरकट्टा ने बताया कि बालू का चालान अवैध तरीके से काटा जा रहा है।

उपायुक्त ने बताया गया कि कार्रवाई की जायेगी। जिला खनन पदाधिकारी को जांच करने का निदेश दिया गया।

- दिनेश गुप्ता कतरास से बताया कि पुत्री का जाति, आवासीय प्रमाण पत्र अंचल कार्यालय से नहीं बन पा रहा है।

उपायुक्त ने बताया गया कि संबंधित प्रमाण पत्र लेकर अंचल कार्यालय जाएं। पुत्री का जाति, आवासीय प्रमाण पत्र बन जायेगा। अंचलाधिकारी बाघमारा को निर्देश दिया कि सभी लंबित जाति, आवासीय प्रमाणपत्र निर्गत करें।

- नीतू देवी भूली ने कहा कि पति का देहांत हो चुका है। तीन छोटे बच्चे एवं सास-ससुर हैं। जीवन यापन में समस्या हो रही है।

उपायुक्त ने बताया कि कार्यालय संबंधित कागजात लेकर आएं आपको राशन कार्ड एवं विधवा पेंशन अविलंब निर्गत किया जाएगा।

- पूनम देवी ने कहा कि उनके घर में आग लगा दी गई है। धनबाद थाना में केस करने गयी तो डांट कर भगा दिया गया।

उपायुक्त ने कहा कि संबंधित थाना प्रभारी को निर्देश दिया जाएगा।

- ओम प्रकाश, खेशमी पंचायत ने बताया कि फसल बीमा की राशि अभी तक नहीं मिली है।

उपायुक्त ने कहा कि आपने बीमा कराया है तो अवश्य ही बीमा राशि मिलेगी।

- राजनीति प्रसाद, गजुआटांड़ ने बताया कि रोड पर पशु को बांध दिया गया है।

उपायुक्त ने एसडीओ को धारा 133 के तहत कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

- बरवाअड्डा थाना के नगरकियारी पंचायत से बताया गया कि वहां पटवन की सुविधा नहीं है।

उपायुक्त ने कार्यपालक अभियंता लघु सिंचाई को निर्देंश दिया कि स्थल निरीक्षण कर पटवन की सुविधा सुनिश्चित करें। वे स्वयं भी स्थल निरीक्षण करेंगे।

- नया बाजार, गद्दी मोहल्ला से एक व्यक्ति ने फोन कर पानी की समस्या के बारे में बताया।

उपायुक्त ने पीएचईडी एक के कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया कि टैंकर से पानी भेजें।

- सिन्दरी से मिथुन ने बताया कि पानी कनेक्शन हेतु पेपर एवं राशि नगर निगम कार्यालय में जमा कर दिया, पर कनेक्शन अभी तक नहीं मिला है।

उपायुक्त ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि मामले का समाधान करें।

- एक कॉलर ने बताया कि चिरकनाली गोविंदपुर में सरकारी जमीन पर कब्जा है।

उपायुक्त ने अंचल अधिकारी गोविन्दपुर को निर्देश दिया कि अविलंब मामले की जांच कर नियमानुसार कार्रवाई करें।

- वार्ड संख्या 13 से एक कॉलर ने बताया कि वह कई वर्षों से राशन कार्ड बनाने के लिए परेशान है।

उपायुक्त ने कहा कि कल सुबह कार्यालय में कागजात के सथ आकर मिलें। समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने की सराहना: अपनी बात की सफलता पर उपायुक्त को मुख्यमंत्री की भी सराहना मिली। कार्यक्रम के बाद उपायुक्त ए दोड्डे ने ट्विटर पर लिखा कि अपनी बात कार्यक्रम आज शुरु हुआ। विभिन्न पंचायत व प्रखंडों के लोगों से सीधा संवाद हुआ। कई विभागों को निर्देश दिया।

इस पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने रीट्वीट करते हुए लिखा कि सरकार जनता के लिए अनेक विकास योजनाएं चला रही है। चाहे वो कृषि आशीर्वाद योजना हो या मुख्यमंत्री सुकन्या योजना या कोई और कल्याणकारी योजना। इनके बारे में जागरूकता फैलाना तथा जनता की समस्याओं को सुलझाना हमारी प्राथमिकता है। 

Posted By: Deepak Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप