प्रेम की हत्या के मामले में प्रेमिका, उनके भाई, पिता के खिलाफ मामला दर्ज

धनसार : कुसुमाटांड़ नीमटांड़ के युवक प्रेम कुमार रवानी की हत्या के मामले में धनसार थाना पुलिस ने बुधवार को प्रेमिका, उनके भाई नीतीश कुमार महतो और पिता कार्तिक महतो के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने प्रेमिका के घर बरमसिया में आरोपितों की तलाश में छापेमारी की। पिता कार्तिक को गिरफ्तार कर लिया। अन्य आरोपित फरार हो गए। प्रेम की मंगलवार की देर शाम हत्या के बाद उसके चाचा दारकू रवानी ने बलियापुर थाना में शिकायत की थी।

घटनास्थल बरमसिया होने के कारण उच्चाधिकारी के निर्देश पर धनसार थाना को मामला दर्ज करने का निर्देश दिया गया। बलियापुर थाना पुलिस ने शिकायत पत्र को धनसार थाना को भेज दिया था। धनसार थाना प्रभारी राज कपूर का कहना है कि मामले की छानबीन शुरू कर दी गई है। आरोपितों की तलाश में छापेमारी की जा रही है। एक आरोपित प्रेमिका के पिता को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य आरोपितो को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

हाई स्कूल के दिनों से दोनों के बीच था प्रेम प्रसंग :

संस, बलियापुर : बताते हैं कि कुसमाटांड़ में रहने वाले प्रेम रवानी व मुकुंदा निवासी उसकी प्रेमिका कुछ वर्ष पूर्व एक साथ हाई स्कूल में पढ़ा करते थे। अभी प्रेमिका बरमसिया में रिश्तेदार के यहां रहती थी। हाई स्कूल में पढ़ने के दौरान ही दोनों एक-दूसरे से प्रेम करने लगे थे। प्रेम सिंदरी कालेज के इंटर का छात्र था। इसी वर्ष उसने आइएससी की परीक्षा दी थी। बताते हैं कि प्रेमिका से मोबाइल पर बात होने के बाद ही प्रेम दो दोस्तों के साथ बरमसिया गया था। दोनों दोस्त उसे वहीं छोड़कर चल दिए थे।

प्रेम की पीट-पीटकर कर दी गई हत्या : दारकू

धनसार : प्रेम रवानी के चाचा दारकू रवानी ने पुलिस से शिकायत में कहा है कि भतीजा प्रेम बरमसिया की एक लड़की से प्यार करता था। मंगलवार को वह अपने पड़ोस के साथी विवेक रवानी, रंजन रवानी के साथ घूमने निकला था। देर शाम विवेक ने नीमटांड़ के विकास नामक युवक के मोबाइल पर बताया कि प्रेम अपनी प्रेमिका से मिलने के दौरान बरमसिया शनि मंदिर के पास पकड़ा गया है। विकास ने यह बात प्रेम के घरवालों को बताई। इसके बाद प्रेम की तलाश में उनके स्वजन बरमसिया पहुंचे। इसी दौरान उनलोगों के मोबाइल पर फोन आया कि प्रेम एसएनएमएमसीएच में भर्ती है। वहां जाने पर पता चला कि प्रेम की मौत हो चुकी है। उसके शरीर पर कई जगह चोट के निशान हैं। दारकू ने आरोप लगाया कि प्रेम को उसकी प्रेमिका, उसके भाई और पिता ने अपने घर में पीट-पीटकर मार डाला व शव को अस्पताल ले जाकर छोड़ दिया था।

Edited By: Jagran