जागरण संवाददाता, धनबाद। डाक्टर बनने की चाहत रखने वाले छात्रों के लिए अच्छी खबर है। इसी सप्ताह नेशनल एलिजबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट (नीट) का परिणाम जारी होने जा रहा है। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने इस संबंध में संभावना जता दी है। इसके साथ ही आंसर की भी जारी कर दी गई है। नीट में पूछे गए सवालों के सही उत्तरों की बुकलेट जारी हो चुकी है। इसके जरिए छात्र परीक्षा में मिलने वाले अपने अंकों का अंदाजा लगा सकते हैं। सिर्फ यही नहीं छात्रों को परीक्षा में पूछे गए प्रश्न और इसके उत्तर पर आपत्ति दर्ज कराने का मौका भी एनटीए ने दिया। धनबाद के कई छात्रों ने उत्तर को चैलेंज भी किया। 12 सितंबर को आयोजित नीट की परीक्षा में धनबाद से लगभग 900 छात्र शामिल हुए थे। मेडिकल विशेषज्ञ संजय आनंद बताते हैं कि इस बार नीट की परीक्षा में 200 प्रश्न पूछे गए थे। जिसमें छात्रों को सिर्फ 180 प्रश्न ही हल करने थे। एक चौथाई नेगेटिव मार्किंग की भी व्यवस्था की गई थी। इसलिए इस बार कटआफ कम होने की संभावना है।

किस कालेज में एमबीबीएस की कितनी सीटें

  • एसएनएमएमसीएच धनबाद : 50 सीट
  • रिम्स रांची : एमबीबीएस 180 और बीडीएस 50 सीट
  • एमजीएम जमशेदपुर : 100 सीट

पलामू, दुमका और हजारीबाग (नया मेडिकल कालेज) : 100 सीट ( 2019 में ही एडमिशन हुआ, 2020 में एक भी प्रवेश नहीं हुआ और 2021 के लिए भी संशय)

दो फेज में पूछे गए थे प्रश्न

फिजिक्स एवं केमेस्ट्री में प्रश्नों की संख्या 50-50 और बायोलाजी में 100 प्रश्न (बाटनी 50 एवं जूलाजी 50) पूछे गए। फिजिक्स, केमेस्ट्री, बाटनी एवं जूलाजी प्रत्येक में पांच-पांच प्रश्न छोड़ने का विकल्प था। प्रत्येक विषय में दो फेज थे। फेज-1 में 35 प्रश्न अनिवार्य रूप से करन था। फेज-2 में 15 प्रश्न में से दस प्रश्न का उत्तर देना था। इनमे एक चौथाई नेगेटिव मार्किंग थी।

Edited By: Mritunjay