संवाद सहयोगी, निरसा/मुगमा (धनबाद): त्रिस्‍तरीय पंचायत चुनावों के जरिए हाल ही में चुने गए मुखिया जी अब सवालों के घेरे में हैं। एग्यारकुंड प्रखंड की गोपालपुरा पंचायत की मुखिया शिखा नाग के पति सपन कुमार नाग ने आसनसोल के दो युवकों एवं मिहिजाम के एक युवक से आद्रा रेल डिविजन में ग्रुप डी में नौकरी दिलाने के नाम पर 6 लाख 60 हजार रुपये की ठगी कर ली। मामले में ठगी के शिकार आसनसोल के युवकों के मामा धीरज कुमार साव ने निरसा थाने में एफआइआर दर्ज कराई है।

दुकान में आता-जाता था सपन, खुद को डीआरएम का पीए बताता था

बेलडांगा निवासी धीरज कुमार साव ने निरसा थाने में शिकायत करते हुए कहा है कि पंचेत ओपी अंतर्गत जीरो प्वाइंट में उसकी दुकान है। सपन कुमार नाग उसकी दुकान में आकर बैठता था। वह खुद को आद्रा रेलवे डिविजन के डीआरएम का पीए बताता था। लगभग चार वर्षों से दुकान में आने के क्रम में सपन कुमार नाग से उसकी घनिष्ठता बढ़ गई। एक दिन उसने मुझसे कहा कि आपका कोई रिश्तेदार रेलवे में ग्रुप डी में काम करने लायक है तो उसको मैं काम पर लगा दूंगा। काम लगाने के एवज में रुपये लगेंगे। मैं उसके झांसे में आ गया। अपने दो भांजे पश्चिम बंगाल के आसनसोल निवासी सुमित किशोर साव, अजीत किशोर साव एवं अपने साले जामताड़ा जिला के मिहिजाम निवासी ब्रजकिशोर साव का ग्रुप डी में नौकरी लगा देने की बात कही।

सपन ने कहा कि तीनों को ग्रुप डी में नौकरी लगाने के एवज में 15 लाख रुपये लगेंगे। उसने मुझसे पांच अगस्त 2021 को तीनों के नौकरी लगाने के नाम पर अग्रिम 6 लाख 60 हजार रुपये अपने आवास पर बुलाकर लिया। कहा कि पैसा नकद देना होगा। इस कारण हम लोगों ने उसे नगद पैसे दिए। इस बीच सपन ने हम लोगों को मेडिकल फिटनेस, रेलवे की ग्रुप डी वर्दी समेत अन्य कागजात दिए। उसके बाद उसने ज्वाइनिंग के नाम पर शेष राशि की मांग की। मैंने उसके द्वारा रेलवे के नाम पर दिए गए कागजात की जांच कराई तो पता चला कि सारे कागजात जाली हैं। उसके बाद अपना पैसा मांगने लगे तो वह टालमटोल करने लगा। आश्‍वासन दिया कि शुक्रवार को वह मेरे घर पैसे पहुंचा देगा, लेकिन नहीं आया। इधर धीरज कुमार साव ने कहा कि सपन ने नौकरी दिलाने के नाम पर कई लोगों के साथ जालसाजी की है।

मुखिया ने की छेड़खानी की शिकायत, पति का अपहरण कर पीटने का लगाया आरोप

इधर, मुखिया शिखा नाग ने अपने पति का अपहरण कर उसकी पिटाई करने तथा विरोध करने पर उसके साथ छेड़खानी करने की शिकायत निरसा थाना में की है। पुलिस ने सपन को इलाज के लिए निरसा सीएचसी भेजा। वहां से चिकित्सकों ने उसे एसएनएमएमसीएच धनबाद भेज दिया है। शिखा नाग ने शिकायत में कहा है कि वह अपने पति के साथ मुगमा एरिया ऑफिस जा रही थीं। इसी दौरान एग्यारकुंड प्रखंड के समीप कार व बाइक पर सवार चार-पांच लोग उतरे और मुझे व मेरे पति के साथ मारपीट की। मेरे साथ छेड़खानी भी की। उसके बाद वे लोग रिवाॅल्वर दिखाकर मेरे पति को कार में बैठाकर ले गए और उनकी पिटाई की। इससे वह घायल हो गए। मुखिया ने कहा कि वह दो लोगों को पहचान पाई। इनमें रामजी यादव व रोशन मिश्रा थे। दोनों मासस के कार्यकर्ता हैं। बाकी लोगों को वह नहीं पहचान सकी। पिटाई से घायल सपन नाग का इलाज एसएनएमसीएच धनबाद में चल रहा है। उन्होंने पुलिस से उचित कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं आरोपित रामजी यादव व रोशन मिश्रा ने आरोप को बेबुनियाद बताया है।

Edited By: Deepak Kumar Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट