संसू, चासनाला। सुदामडीह में स्वतंत्रता दिवस के दिन स्कूल से घर लौट रही नाबालिग छात्रा के साथ दुष्कर्म व मारपीट की घटना से समाज शर्मसार हुआ है। इस घटना के बाद भी मनचलों का आतंक थम नहीं रहा है। मंगलवार को मनचलों ने झरिया सिंदरी मुख्य मार्ग पर स्कूल बस के आगे बाइक खड़ी कर बस रोकी और छात्राओं के साथ छेड़खानी की।

विरोध करने गए चासनाला के 34 वर्षिय माजिद को राड मारकर जख्मी कर दिया। घटना से स्कूली छात्राओं में दहशत है। घटना के बाद खलासी और चालक बस लेकर पाथरडीह थाना गए और वहां मामले की जानकारी दी। माजिद ने पुलिस को लिखित शिकायत दी है। इस मामले के एक आरोपी को माजिद ने पकड़कर पुलिस को सौंप दिया।

जानिए, क्या है मामला:

चासनाला पेट्रोल पंप निवासी माजिद इकबाल खान ने पुलिस को बताया कि वह अपने मित्र चासनाला ओझा बस्ती निवासी कुणाल ओझा के साथ डिगवाडीह 12 नंबर से आइसक्रीम लेकर घर लौट रहा था। नुनूडीह न्यू काली मंदिर के समीप डिगवाडीह कार्मेल स्कूल की बस संख्या बीपीआर 9133 खड़ी थी। चार लड़के बस के खलासी से उलझ रहे थे। जब हम दोनों बस के नजदीक पहुंचे तो बस के खलासी चंदन ने बताया कि अक्सर ये लड़के स्कूल बस को रोक कर स्कूली छात्राओं के साथ छेड़खानी करते हैं। हमें तेजाब फेंकने की धमकी देते हैं।

चालक सच्चिदानंद सिंह ने भी खलासी की बातों का समर्थन किया। कहा ये लोग बस में चढ़कर छेड़खानी करते हैं। माजिद व उसके दोस्त ने जब लड़कों का विरोध किया तो जामाडोबा के शबाब आलम , मोहन बाजार के नेहाल सिंह, नुनूडीह के हर्ष अग्रवाल व अभिषेक आर्यन उससे मारपीट करने लगे। लोहे का रॉड सिर पर मार दिया।

इससे माजिद का सर फट गया। मारपीट के बाद सभी भागने लगे। पर, माजिद ने हिम्मत नहीं हारी। एक मनचले शबाब को माजिद ने दबोच लिया और उसे अंत तक नहीं छोड़ा। बाद में उसे पाथरडीह पुलिस के हवाले कर दिया गया। मालूम हो कि माजिद की एक रिश्तेदार भी उसी बस से आती जाती है। पाथरडीह पुलिस अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है।

घर में घुसकर दुष्कर्म का प्रयास

धनसार : बरमसिया की एक महिला ने क्षेत्र के ही बंटी पासवान पर धनसार थाना में दुष्कर्म के प्रयास की शिकायत की है। महिला ने कहा है कि सोमवार सुबह वह घर में अकेली थी। तभी बंटी पासवान उसके घर पहुंचा। उसने उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास किया।

जब उसने शोर मचाया तो वह भाग गया। कुछ देर बाद ही बंटी अपने घर की दो महिलाओं के साथ फिर आ धमका। वे लाठी, चाकू से लैस थे। बंटी ने हमारे ऊपर चाकू से प्रहार कर दिया। इससे सिर फट गया।

यह भी पढ़ेंः प्यार और तकरार के बीच मानवता शर्मसार

यह भी पढ़ेंः जिसे पत्थर समझ झाड़ियों में फेंक दिया, वह हीरा निकला

Posted By: Sachin Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप