धनबाद, जेएनएन। एक महिला ने भूली ओपी के प्रभारी चंदन कुमार, एएसआइ सुनील कुमार झा, ओपी के आम्र्स गार्ड संतोष राम एवं बंटी कुमार यादव के विरुद्ध अदालत में छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया है। हालांकि पुलिस का कहना है कि आरोप झूठा है। शिकायत करने वाली के पति को आर्म्स एक्ट में जेल भेजा जा चुका है। इसलिए उसकी पत्नी बचाव के लिए साजिश रच रही है।

धनबाद के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत में दायर शिकायतवाद में भूली क्षेत्र में रहनेवाली महिला ने आरोप लगाया कि 10 अक्टूबर को अपराह्न 3 से 4 बजे के बीच ओपी प्रभारी चंदन कुमार अपने अन्य सहयोगियों के साथ उनके घर पहुंचे। घर में घुसकर वे गाली-गलौज करते हुए रंगदारी की मांग करने लगे। विरोध करने पर ओपी प्रभारी ने महिला के साथ अश्लील हरकत की और उनका मोबाइल भी छीन लिया। इस दौरान एएसआइ ने उनकी अलमारी में रखे 40 हजार रुपये व दस्तावेज भी निकाल लिए। जब उनके पति ने इसका विरोध किया तो उनके साथ भी उन्होंने मारपीट की।

महिला ने शिकायतवाद में आरोप लगाया कि भूली प्रभारी ने रंगदारी नहीं देने के कारण जानबूझकर उनके पति को आम्र्स एक्ट के झूठे मामले में फंसा कर जेल भी भेज दिया है। अदालत ने मामले की सुनवाई के लिए अगली तारीख निर्धारित कर दी है।

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप