बोकारो, जेएनएन। झारखंड में राज्यसभा (Rajya Sabha election ) के लिए 19 जून को चुनाव होना है। इससे पहले पूर्व मंत्री बहुचर्चित सरयू राय ने सर्वसम्मति का राग छेड़ा है। उन्होंने कहा है कि झारखंड में राज्यसभा चुनाव के लिए जो वोटों का आंकड़ा है उसके अनुसार एक सीट पर झामुमो की जीत तय है। दूसरी सीट के लिए भाजपा और कांग्रेस के बीच जोरआजमाइश है। इससे विधायकों की खरीद-फरोख्त तय है। ऐसे में सर्वसम्मति से चुनाव होना चाहिए। ऐसा होने पर विधायकों को मैनेज करने की नाैबत ही नहीं आएगी। 

राय ने बोकारो सर्किट हाउस में बुधवार मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि झारखंड राज्यसभा चुनाव को सर्वसम्मति से कराना चाहिए। कांग्रेस को मुख्यमंत्री से बातचीत करनी चाहिए। इस चुनाव को दंगल नहीं बनाना चाहिए। झामुमो व भाजपा के एक-एक प्रत्याशी को सर्वसम्मति से चयनित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस चुनाव में जरूरी नहीं है कि कोई सदस्य मतदान करे। राज्यसभा का गणित बिल्कुल साफ है। दोनों दल के एक-एक प्रत्याशी को चयनित करने से हार्स ट्रेडिंग व खरीद-फरोख्त पर रोक लगेगी।

विफल रही विदेश नीति

पूर्व मंत्री ने कहा कि विदेश नीति की विफलता के कारण नेपाल चीन की गोद में चला गया है। केंद्र सरकार को ऐसा कदम उठाना चाहिए, जिससे पूर्व की भांति नेपाल से सांस्कृतिक, धार्मिक व राजनैतिक संबंध बेहतर रहें। कोरोना काल में नेपाल की आर्थिक स्थिति काफी खराब है। इसलिए सरकार को इस संकट की घड़ी में नेपाल का साथ देने के लिए तैयार रहना चाहिए। नेपाल के मामले में उच्च स्तरीय सलाहकार समिति का गठन करना चाहिए। नेपाल में चीन के अलावा अमेरिका व यूरोप का हस्तक्षेप बढ़ गया है। इस पर रोक लगाने का प्रयास करना चाहिए।

नदियों के संरक्षण के लिए राज्य में चलेगा विशेष अभियान

कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के लिए दो माह के लॉकडाउन के कारण जहां आमजनों को काफी कष्ट का सामना करना पड़ा, वहीं प्राकृतिक दृष्टिकोण से कुछ ना कुछ अभूतपूर्व बदलाव का संकेत भी मिला। वातावरण शुद्ध हुआ है और अब आगे कोरोना के साथ जीना ही एक विकल्प है। उक्त बातें जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने कहीं। वे जैनामोड़ चैंबर ऑफ कॉमर्स में पत्रकारों से बात कर रहे थे। कहा कि लॉकडाउन के बाद नदियों के संरक्षण एवं इनके अस्तित्व को लेकर कई अभियान चलाए जाएंगे।

राजेंद्र के परिजनों से की मुलाकात

विधायक सरयू राय बेरमो के दिवंगत विधायक राजेंद्र प्रसाद सिंह के ढोरी स्टाफ क्वार्टर स्थित आवास भी पहुंचे। उन्होंने उनके परिजनों से मिलकर ढांढ़स बंधया। भाजपा नेता मधुसूदन सिंह के आवास में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि इस वर्ष राज्य सरकार को नई योजनाओं पर खर्च न करके पुरानी योजनाओं को ही धरातल पर उतारने का काम करना चाहिए। कहा कि देश में विदेशी मुद्रा का भरपूर भंडार है। ऐसे में झारखंड सरकार को चाहिए कि केंद्र सरकार से जीडीपी की 10 फीसद राशि राज्य के विकास के लिए मांगे। विधायक ने कहा कि राज्य की पूर्व सरकार के कार्यकाल में मैनहर्ट घोटाले को निगरानी टीम ने गड़बड़ी मान लिया था। उसके बावजूद सरकार ने कोई कार्रवाई नहीं की थी।

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस