संस, पंचेत : बीसीसीएल सीवी एरिया की दहीबाड़ी-बसंतीमाता परियोजना के दो कर्मियों की हाजिरी पर रोक लगाने के विरोध में शनिवरा को संयुक्त मोर्चा के नेताओं ने प्रबंधक समीर मंडल का घेराव किया।

मोर्चा के नेताओं का कहना है कि प्रबंधन ने तीन साल पहले ही कर्मियों को फिल्टर प्लांट कालोनी से न्यू कालोनी शिफ्ट किया था। इसके बाद सभी कर्मियों ने अपने-अपने क्वार्टर को व्यक्तिगत खर्च कर बनाया। इधर तीन साल के बाद प्रबंधन ने फिर से शिफ्ट करने का फरमान जारी कर दिया। दबाब बनाने के लिए शुक्रवार को बिदा महतो व पूर्णा गोराई की हाजिरी पर रोक लगा दी। इसका संयुक्त मोर्चा के नेताओं ने विरोध जताया। आंदोलन के दौरान परियोजना प्रमुख प्रशांत बनर्जी वार्ता के लिए पहुंचे। उन्होंने कहा कि परियोजना विस्तार के लिए कर्मियों को नया तीन तल्ला में शिफ्ट करना ही होगा, अन्यथा परियोजना आगे बढ़ पाना मुश्किल है। इसके लिए संयुक्त मोर्चा के नेताओं से भी साथ देने की अपील की, लेकिन मोर्चा के नेताओं का कहना है कि कंपनी के मजदूरों को हटा कर गैर कर्मियों को प्रबंधन बसाना चाहता है। वे तीन तल्ला में ही क्यों नहीं शिफ्ट कर देता है। अंतत: सलाहकार समिति की बैठक तक कर्मियों की हाजिरी पर रोक के आदेश को वापस ले लिया गया। इसके बाद मामला शांत हुआ। इस दौरान बाबू जान मरांडी, योगेश राजभर, अंकुज सिंह, श्रीराम महतो, जोनी मरांडी आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran