जागरण संवाददाता, धनबाद : जेपीएससी 2021 की प्रारंभिक परीक्षा को कदाचारमुक्त और शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सभी केंद्रों पर स्टैटिक मजिस्ट्रेट के अलावा दंडाधिकारियों के नेतृत्व में 63 फ्लाइंग स्क्वायड का गठन किया गया है। साथ ही पूरी प्रक्रिया पर नजर रखने के लिए 14 दंडाधिकारियों को रिजर्व में रखा गया है। एसडीओ कार्यालय में स्थापित जिला नियंत्रण कक्ष में नौ पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। जिला कोषागार में प्रश्न पत्र वितरण करने एवं परीक्षा के बाद सील्ड पैकेट को प्राप्त करने के लिए 12 पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। इससे संबंधित निर्णय उपायुक्त संदीप सिंह की अध्यक्षता में परीक्षा को लेकर समाहरणालय सभागार में आयोजित बैठक में लिया गया। उपायुक्त ने बताया कि रविवार को होनेवाली परीक्षा के लिए जिले के 102 परीक्षा केंद्र में 32119 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। वहीं प्रशासन की कोशिश इस परीक्षा को शांतिपूर्ण और कदाचारमुक्त कराने की होगी। इसके लिए स्टैटिक दंडाधिकारियों के साथ-साथ 63 फ्लाइंग स्क्वायड बनाए गए हैं। हर स्क्वायड की जिम्मेवारी एक-एक दंडाधिकारी के जिम्मे होगी। जो घूम-घूम कर स्थिति पर नजर रखेंगे। उन्होंने प्रश्नपत्रों के पैकेट खोलने और परीक्षा के बाद सील करते समय उसकी वीडियोग्राफी कराने का निर्देश दिए गया। साथ ही क्लास रूम में सीटिग प्लान के अनुसार ही परीक्षार्थियों को बैठाने को कहा गया। उन्होंने कहा कि इसके पूर्व परीक्षा केंद्रों में प्रवेश के दौरान प्रत्येक विद्यार्थी की अच्छे से जांच की जाएगी। किसी प्रकार का इलेक्ट्रानिक डिवाइस, मोबाइल फोन या इलेक्ट्रानिक घड़ी व आपत्तिजनक सामान मिलने पर उसे अलग से रखने की व्यवस्था होगी। परीक्षा केंद्रों में सभी पर्यवेक्षकों द्वारा आपत्तिजनक सामान नहीं लाने के बारे में लगातार अनाउंसमेंट किया जाएगा। इसके बाद भी यदि किसी परीक्षार्थी का पास से वैसा सामान बरामद होगा तो उसे तुरंत निष्कासित कर दिया जाएगा। बैठक में उपायुक्त के साथ अपर समाहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी सहित विभिन्न पदाधिकारी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran