संसू, पथरगामा(गोड्डा)। दो साल से चल रहे प्रेम प्रसंग को देखते हुए बीते 17 सितंबर को ग्रामीणों ने प्रेमी प्रेमिका की शादी करा दी। शादी बंधन बंधन में बंधने वाली रात को ही प्रेमी अपनी प्रेमिका को ससुराल में छोड़कर भाग निकला। सुबह होने पर जब इसकी जानकारी प्रेमिका को हुई तो वह अपने स्वजनों के साथ थाने पहुंचकर पति के विरोध थाने में शिकायत करते हुए न्याय की गुहार लगाई। इधर, महिला थाने की ओर से प्रेमी को नोटिस भेजकर थाने में उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने को कहा गया है। बावजूद प्रेमी अबतक थाने नहीं पहुंचा है।

ग्रामीणों के मुताबिक महागामा के डलावर गांव निवासी अशोक कुंवर की बेटी आरती कुमारी के साथ बीते दो साल से महागामा के गुदिया गांव निवासी क्रांति सिंह का प्रेम प्रसंग चल रहा था। 17 सितंबर की रात डलावर गांव में ग्रामीणों ने दोनों प्रेमी प्रेमिका को देखकर धर दबोचा। इधर थाने पहुंची प्रेमिका आरती ने पुलिस को बताया कि उसका प्रेम प्रसंग क्रांति सिंह के साथ विगत दो साल से चल रहा है। विश्वकर्मा पूजा के दिन क्रांति मेरा घर पहुंचा तथा गलत इरादे से हाथ पकड़ हरकत करने लगा। शोरगुल करने पर आस पड़ोस के लोग इक्ट्ठा हो गए और क्रांति को धर दबोचा। इसके बाद गांव पंचायती हुई। जिसमें वगैर दबाव का क्रांति ने मुझसे शादी के लिए हामी भर दी।

गांववालों की मौजूदगी और पंचायत प्रतिनिधि की उपस्थिति में हिंदू रीति रिवाज के साथ हनुमान मंदिर में हम दोनों की शादी हुई। शादी के बाद क्रांति बिना मुझे विदा कराए चकमा देकर भाग निकला। इधर, वह अपनी पत्नी को अपने घर पर साथ रखने से इंकार कर रहा है। पीडि़ता ने महिला थाना में शिकायत दर्ज कराई गई है। महिला थाना की ओर से क्रांति सिंह को नोटिस किया गया है। आरती ने पुलिस से न्याय की गुहार लगाई है।

Edited By: Mritunjay