झरिया/धनसार/सिदरी : कोरोना खौफ व लॉकडाउन के बीच मंगलवार को झरिया, एना व सिदरी में सरकारी बैंक के खुलते ही ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी। सामाजिक दूरी को सभी भूल गए। केंद्र सरकार की ओर से जनधन खाता में भेजी गई राशि को पाने के लिए गरीब महिलाएं व लोग आतुर थे। बैंक प्रबंधक को झरिया पुलिस का सहयोग लेना पड़ा। खातों से राशि निकालने के लिए लोगों में धक्का-मुक्की की स्थिति बनी रही। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शारीरिक दूरी का पालन कराया। अन्य बैंकों में भी यही स्थिति थी। बिहार बिल्डिंग एसबीआई बैंक के प्रबंधक सत्यप्रकाश अखौरी ने कहा कि कोरोना वायरस को लेकर सुरक्षा पर ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है। लोगों को सैनिटाइजर से हाथ साफ कराया जा रहा है। भगतडीह मोड़ स्थित ऐना बैंक ऑफ इंडिया में भी ऐसा ही देखने को मिला। शारीरिक दूरी का पालन नहीं करने पर सूचना पाकर झरिया पुलिस पहुंची। सोशल डिस्टेंस नहीं रखने वालों पर हल्की लाठियां चटकाई। सोमवार को महावीर जयंती के कारण बंद था। इस कारण आज अधिक भीड़ हुई। सिदरी के बैंकों में भी जनधन खाते से राशि की निकासी के लिए ग्राहकों की भीड़ उमड़ पड़ी। लोग न तो फेस मास्क पहने थे और न ही शारीरिक दूरी का पालन कर रहे थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस