जासं, धनबाद। निरसा, पंचेत, गलफरबाड़ी व मैथन इलाकों में भी बंगाल के कोयला माफिया अनूप माजी उर्फ लाला के अवैध कारोबार की तर्ज पर अवैध खदानें चलाई जा रही हैं। ईसीएल की बंद खदानों व जंगल में खोली गई खदानों से कोयला निकाला जा रहा है। इस कोयले को धनबाद के भ_ों के अलावा बनारस की मंडी तक पहुंचाया जा रहा है। गलफरबाड़ी में दो दर्जन से अधिक अवैध कोयला खदानें : गलफरबाड़ी पुराना ओपी के बगल में करीब दो दर्जन से अधिक अवैध कोयला खदानें चल रही हैं। यहां जामताड़ा, दुमका आदि जिलों से मजदूर मंगवाकर कोयला का खनन कराया जा रहा है। यहां से कच्चे कोयला को वाहनों के माध्यम से दुधियापानी स्थित भ_े व बाहर की मंडियों में भेज दिया जाता है।

पुलिस के नाम पर 17 सौ रुपये प्रति टन वसूली : निरसा, पंचेत, मैथन, मुगमा व गलफरबाड़ी क्षेत्र के कोयला तस्करों से प्रति टन 17 सौ रुपये की वसूली पुलिस के नाम से की जाती है। यह वसूली शासनबेडिय़ा का एक होटल संचालक करता है। आलम ये कि कल का मामूली होटल संचालक आज करोड़पति है।

पंचेत में एक पुलिस अधिकारी का रिश्तेदार करवा रहा कोयला चोरी : पंचेत इलाके में एक पुलिस अधिकारी का रिश्तेदार खुलेआम कोयला चोरी करवा रहा है। वह दहीबाड़ी, जोगराज बस्ती, डुमरीजोर, लुचीबाद में एक दर्जन से अधिक अवैध खदानें चला रहा है।

कालूबथान में पुलिस मुखबिर ही सरगना : कालूबथान ओपी क्षेत्र में कभी पुलिस के मुखबिर रहे तीन लोग कोयला तस्करी करवा रहे हैं।

मैथन में तिकड़ी खिला रही गुल : मैथन थाना क्षेत्र में जीटी रोड के बगल में तस्करों की एक तिकड़ी खुलेआम कोयला चोरी करवा रही है। राजपुरा व कुमारधुबी कोलियरी से बड़े पैमाने पर कोयला निकाल कर भट्ठे में जमा किया जाता है। यहां से हर दिन तीन से चार ट्रक कोयला बाहर भेजा रहा है।

सूचना लीक हो जाने के कारण खाली हाथ लौटी पुलिस

दैनिक जागरण में विशेष शाखा की रिपोर्ट के आधार पर निरसा क्षेत्र में कोयला चोरी की खबर छपने के बाद क्षेत्र के एसडीपीओ पितांबर सिंह खरवार ने मंगलवार को पंचेत ओपी क्षेत्र के डुमरीजोर व लुचीबाद में छापेमारी की। हालांकि वहां एक भी कोयला चोर व तस्कर नजर नहीं आए। खदान में पानी भरा हुआ था। सूत्रों ने बताया कि कोयला तस्करों को छापेमारी की सूचना एक पुलिस अधिकारी ने पहले ही दे दी थी। इसलिए वे लोग सतर्क थे। छापेमारी में चिरकुंडा थानेदार दिलीप कुमार यादव भी सदलबल शामिल थे।

अवैध कोयला तस्करी की सूचना पर पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है। मंगलवार को भी पुलिस की स्पेशल टीम ने निरसा, चिरकुंडा इलाके में कई जगहों पर छापेमारी की। हालांकि पुलिस वैसे सभी कोयला तस्करों पर नजर रख रही है जिसके नाम पर एक माह पूर्व प्राथमिकी दर्ज हुई है।

संजीव कुमार

एसएसपी, धनबाद

Edited By: Mritunjay