धनबाद, जेएनएन। हावड़ा स्टेशन में नेताजी एक्सप्रेस पर सवार हुआ तो उसके पास दो बैग थे। पर जब कोडरमा स्टेशन पर उतरा तो तीन हो गए। उसने सोचा भी नहीं होगा कि उसकी चोरी पकड़ी जाएगी। पर कोडरमा स्टेशन पर आरपीएफ और जीआरपी ने उसे दबोच लिया। इसके बाद पूछताछ की गई। आरपीएफ बैग बरामद करने के बाद महिला यात्री को सूचना दी। वीडियो कॉल के माध्यम से महिला यात्री को बैग दिखाया गया। उसने पहचान की। इसके बाद महिला यात्री ने राहत की सांस ली। धनबाद रेल मंडल के डीआरएम आशीष बंसल ने ट्वीट कर पूरे मामले की जानकारी दी है।

क्या है मामला

रात के 11:30 बजे रेलवे के हेल्पलाइन नंबर 139 पर कॉल कर आसनसोल से पानीपत जा रही महिला यात्री दीपिका गुप्ता ने शिकायत की कि वो नेताजी एक्सप्रेस के स्लीपर एस-10 में सफर कर रही है। उनका बैग चोरी हो गया है। उन्हें शक है कि उसी कोच में 27 नंबर सीट पर सफर कर रहे यात्री ने ही बैग चुराया है। शिकायत मिलते ही आरपीएफ हरकत में आ गई। इस  बीच ट्रेन कोडरमा पहुंच चुकी थी।  कोडरमा आरपीएफ ने स्टेशन का सीसीटीवी फुटेज चेक किया जिसमें एक यात्री तीन बैग लेकर जाते दिखा। महिला यात्री को व्हाट्सएप पर सीसीटीवी से तस्वीर भेजी गई तो उन्होंने अपना बैग पहचान लिया। यह भी बताया कि बैग लेकर जा रहा यात्री उनके कोच में 27 नंबर सीट पर बैठा था। महिला यात्री के पहचान करने पर आरपीएफ और जीआरपी ने उसे घेर कर पकड़ लिया।

हावड़ा के सीसीटीवी फुटेज में दो बैग के साथ दिखा यात्री

कोडरमा में महिला यात्री का सामान लेकर उतरे यात्री की पहचान उमेश कुमार दास के रूप में की गई है जो कोडरमा के जयनगर का रहने वाला है। कोडरमा आरपीएफ ने हावड़ा से आये यात्री से जुड़ी जानकारी के लिए हावड़ा आरपीएफ से संपर्क किया और वहां से भी सीसीटीवी फुटेज मंगवाया जिसमें वह दो बैग के साथ ट्रेन पर सवार होता दिख रहा है।

वीडियो कॉल से दिखाया गया महिला यात्री को सामान

पकड़े गए यात्री से बरामद बैग से कपड़े, सोने का मंगलसूत्र, सोने की तीन अंगूठी, सोने का कान का दो जोड़ा, नाक के तीन, पांच जोड़ी चांदी के पायल, नौ जोड़ी बिछिया, एटीएम और नगद 4100 मिले। आरपीएफ ने महिला यात्री को वीडियो कॉल कर सामान दिखाया। महिला ने सभी सामान सुरक्षित होने की बात कही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप