¨सदरी : झारखंड विकास मोर्चा 15 सितंबर को ¨सदरी में हल्ला बोल पोल खोल कार्यक्रम का आयोजन करेगा। झाविमो के सुप्रीमो सह पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। झाविमो के महासचिव रमेश कुमार राही ने कहा कि जिस भूमि पर ¨सदरी में हर्ल के उर्वरक संयंत्र की स्थापना की जा रही है। वह भूमि एफसीआइ के लिए अíजत की गई थी। एफसीआइ के लिए जिन रैयतों से भूमि ली गई थी। उन विस्थापित रैयतों के बेरोजगार युवाओं को रोजगार की गारंटी देने होगी। विस्थापितों के लिए हर्ल में 85 फीसदी नियोजन को आरक्षित करने की मांग की। कहा कि सामलापुर, बड़ादाहा, हरहरी, ¨सदरी रोहड़ाबांध व मनोहरटांड़ मौजा में 261 एकड़ भूमि खाद कारखाना के विस्थापितों के पुनर्वास के लिए अíजत की गई थी। उनके पुनर्वास की व्यवस्था नहीं की गई। सात दशक के बाद सरकार पुनर्वास के लिए चिन्हित भूमि को हवाई अड्डा के लिए हस्तांतरित करने की योजना बना रही है। बताया कि कार्यक्रम में महंगाई, भ्रष्टाचार व सरकार की जनविरोधी नीतियों पर भी चर्चा होगी। भूमिहीन लोगों को उनकी पहचान के लिए विस्थापन प्रमाण पत्र जारी करने की मांग की। मौके पर जगन्नाथ महतो, रविश्वर मरांडी, महालाल हेंब्रम, सतीश महतो, सत्यवान गोराई, वीरेंद्र हांसदा, हेमलाल मुर्मू थे।

Posted By: Jagran