धनबाद, जेएएन: अनलॉक-5 से उम्‍मीद लगाकर बैठने वालों को फ‍िर से न‍िराशा हाथ लगने वाली है। झारखंड में ज‍िस तरह की स्‍थ‍ित‍ि कोरोना को लेकर बन रही है, उससे तो कम से कम यही आस लग रहा है क‍ि सरकार इस बार भी कोई अत‍िर‍िक्‍त छूट देने के मूड में नहीं है। सूत्रों क‍ि माने तो अनलॉक-4 में मामूली पर‍िर्वतन कर या फ‍िर उसे जस की तस ही सरकार अनलॉक-5 लागू कर दें तो इसमें बहुत हैरानी वाली बात नहीं है। कोरोना के नए वैर‍िएंट्स डेल्‍टा प्‍लस के कारण झारखंड को WHO की म‍िली चेतावनी सरकार के जेहन में है। इस बार कोरोना को लेकर मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन क‍िसी तहर की कोई ठील देने के पक्ष में नहीं है।

तीसरी लहर को लेकर सरकार अभी से सर्तक 

अगर ऐसा होता है तो इससे साफ जाहीर हो जाएगा क‍ि भले ही कोरोना के मामले में राज्‍य स्‍तर पर कमी आई हो लेकि‍न हेमंत सरकार इसमें कोई छूट देने के मूड में नहीं है। सरकार का यह फैसला साफ इस ओर इशारा होगा क‍ि तीसरी लहर को लेकर सरकार अभी से ही सर्तक है। क‍िसी तरह की अत‍ि‍र‍िक्‍त र‍ियायतें देने के पक्ष में नहीं है।

व्‍यवसायी वर्ग, स्‍कूल व कोच‍िंग संचालक न‍िराश 

इसमें सबसे ज्‍याद आहत दुकानदार भाई व कोच‍िंंग व स्‍कूल संचालक होंगे। उन्‍हें लगातार न‍िराशा का सामना करना पड़ रहा है। बस माल‍िक भी इसी आस में है क‍ि इस बार सरकार उनके हक में फैसला सुनाएगी लेकि‍न ऐसा नहीं पर आहत होंगे।  इससे ग्रामीणों को भी खासी परेशान होगी। बस नहीं चलने से उन्‍हें अत‍िर‍िक्‍त क‍ि‍राया का बोझ उठा पड़ रहा है ज‍िसका प्रभाव उनके जीवन व व्‍यपार पर पड़ रहा है। 

 होटल व रेस्‍तरां माल‍िकों के उम्‍मीदों पर  पानी

इसके साथ ही होटल व रेस्‍तरां वालों को भी सरकार से खासी उम्‍मीद बंधी है। कोरोना के मामले कम होने से उन्‍हें लग रहा हैै क‍ि इस बार उन्‍हें राहत म‍िलेगी लेकि‍न ऐसऐसा नहीं होने पर उनके उम्‍मीदों पर पानी फ‍िर से फ‍िर सकता है। । होटल नहीं खुलने से आम जन जो अपने घर से बाहर रहते है या फ‍िर अपने खाने के ल‍िए होटल व रेस्‍तरां पर न‍िर्भर करते है उनके ल‍िए इस फैसले से परेशानी होगी।

पूर्व की तरह ही जारी रहेगा साप्‍ताह‍िक लॉकडाउन 

शन‍ि‍वार शाम चार बजे से सोमवार सुबह छह बजे तक 38 घंटे का संपूर्ण लॉकडाउन रहने के पूरे आसार द‍िख रहे है। । इसे भी पूर्व की तरह ही जारी रखा जाएगा।। साप्‍ताह‍ि‍क लॉकडाउन के समय सब्‍जी, फल, आभूषण, राशन आद‍ि सभी तरह की दुकाने पहले की तरह ही बंद रहेगी। इसकी सख्‍ती पूर्व की तरह ही बरकार रहने की उम्‍मीद है। 

अगर ऐसा हुआ तो धनबाद होगा नाराज 

अगर अनलॉक-4 को ही अनलॉक-5 में जारी कर द‍िया गया तो पुराना बाजार के व्यवसायी और पूर्व चैंबर अध्यक्ष सोहराब खान ने सरकार के फैसले से न‍िराश होंगे। उन्‍हें उम्‍मीद है क‍ि  सरकार दुकान बदं करने के समय को चार बजे से बढ़ा कर 8 बजे तक करेगी क‍िंंतु ऐसा होने पर आहत होंगे। । इससे धनबाद के व्‍यवसायी व दुकानदारों का चेहरा भी लटका सकता है।  बैंक मोड़ चैंबर ऑफ कॉमर्स अध्यक्ष प्रभात सुरोलिया ने पहले ही बता चुके है क‍िव्यापार और व्यापरियों की चिंता सरकार को करनी चाहिए। कोरोना के  मामले द‍िन प्रत‍िद‍िन घटते जा रहे है, ऐसे में सरकार को थोड़ी छूट देनी चाह‍िए । 

Edited By: Atul Singh