जागरण संवाददाता, धनबाद। कोरोना की तीसरी लहर का खतरा अभी कम नहीं हुआ है। अभी तो शुरुआत है। कोरोना संक्रमण के केसों में जिस तरह से उछाल आ रहा है वह चिंता की बात है। इसके मद्देनजर झारखंड सरकार ने राज्य में पहले से लागू पाबंदियां ( Jharkhand Mini Lockdown) 31 जनवरी तक बढ़ा दी हैं। यह पाबंदियां धनबाद, बोकारो, गिरिडीह, जामताड़ा, देवघर, दुमका, गोड्डा, पाकुड़, साहिबगंज समेत पूरे झारखंड में लागू रहेंगी। यह निर्णय शनिवार को रांची में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में हुई आपदा प्रबंधन समिति की बैठक में लिया गया। इस फैसले का धनबाद के राजनीतिक दलों ने स्वागत किया है। 

पहले 15 अगस्त तक लागू थी पाबंदियां

कोरोना की तीसरी लहर उठने के बाद 3 जनवरी, 2022 को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की अध्यक्षता में आपदा प्रबंधन की बैठक हुई थी। इसमें 15 जनवरी तक पाबंदियां लगाने का निर्णय लिया गया था। पहले से लागू पाबंदियों की समय-सीमा शनिवार को समाप्त हो रही थी। इसके मद्देनजर मुख्यमंत्री ने आपदा प्रबंधन समिति की बैठक की। बैठक में मिनी लॉकडाउन को 31 जनवरी तक के लिए बढ़ा दिया गया। पाबंदियां पूर्व की तरह लागू रहेंगी। बैठक के बाद मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने ट्वीट कर फैसले की जानकारी दी है। उन्होंने लिखा है-झारखंड में 31 जनवरी तक #Lockdown की वर्तमान व्यवस्था लागू रहेंगी। 

हालात पर सरकार की नजर

बैठक के बाद झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने ट्वीट कर कहा है कि सरकार हालात की लगातार समीक्षा कर रही है। 31 जनवरी तक लाकडाउन की वर्तमान व्यवस्था लागू रहेगी। सरकार के फैसले के धनबाद के राजनीतिक दलों ने स्वागत किया है। झामुमो के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य अशोक मंडल ने कहा है कि मुख्यमंत्री हेमंत सरकार राज्य की जनता को लेकर चिंतित हैं। वे जनहित के मद्देनजर निर्णय लेते हैं। मिनी लाकडाउन बढ़ाने का निर्णय स्वागत योग्य है। धनबाद जिला कांग्रेस अध्यक्ष ब्रजेंद्र प्रसाद सिंह ने मिनी लाकडाउन को बढ़ाने के फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने कहा है कि कोरोना से बचाव के लिए सभी लोगों को कोविड प्रोटोकाल का पालन करना चाहिए। 

मिनी लाकडाउन में झारखंड में लागू पाबंदिया

  • स्कूल- कॉलेज समेत अन्य शिक्षण संस्थान अगले आदेश तक के लिए बंद रहेंगे, लेकिन इन संस्थानों में 50फीसदी क्षमता के साथ प्रशासनिक कार्य होंगे।
  • स्टेडियम, आउटडोर, इंडोर, पार्क, जिम, जू, स्विमिंग पुल, पर्यटन स्थल बंद रहेंगे। 
  • मॉल, रेस्टोरेंट, बैंक्वेट हॉल और सिनेमा हॉल 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित होंगे। 
  • दुकानें रात आठ बजे तक ही खुली रहेंगी। 
  • सिर्फ बार, रेस्टोरंट और दवाई दुकान नार्मल टाइम तक खुले रहेंगे। 
  • सरकारी और निजी संस्थानों में 50 प्रतिशत क्षमता पर काम होगा। 
  • बायोमैट्रिक सिस्टम बंद होगा। 
  • हाट और बाजार सोशल डिस्टेंसिंग के साथ खुले रहेंगे। 
  • शादी और अंत्येष्टि में 100 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति है। 
  • आउटडोर आयोजन में अधिकतम 100 लोग ही शामिल हो सकेंगे। 
  • इनडोर आयोजनों में कुल क्षमता का 50 फीसदी या 100 दोनों में से जो कम हो क्षमता के साथ आयोजन हो सकेंगे।

Edited By: Mritunjay