जागरण संवाददाता, धनबाद। कोरोना वैक्सीन का पहला डोज के अलावा दूसरा डोज लेने वाले लाभुकों की संख्या भी तेजी से बढ़ाने का निर्देश दिया गया है। मुख्यालय रांची ने इस संबंध में धनबाद सहित सभी जिलों के सिविल सर्जन को निर्देश दिया है। इधर, धनबाद में दूसरा डोज लेने वाले लाभुकों की संख्या 4 लाख के आसपास हो गई है। अब तक 3.92 लाख लाभुकों को दूसरा डोज लगाया गया है। हालांकि 11.32 लाख लाभुकों को अब तक पहला डोज लगाया गया है। पहला और दूसरा डोज में भारी अंतर को देखते हुए, अब दूसरे डोज पर भी तेजी लाने का निर्देश दिया जा रहा है। ताकि समय पर लाभुकों को टीका लगाया जा सके।

45 से 60 वर्ष के बीच के लाभुकों की संख्या भी हुई चार लाख के ऊपर

जिले में 18 से 44 वर्ष के बीच के 9.11 लाख लाभुकों को टीका लगाया गया है। वही 45 से 60 वर्ष के बीच के लाभुकों की संख्या भी चार लाख पहुंच गई है। जबकि 60 वर्ष से ऊपर के लाभुकों की संख्या दो लाख है। हालांकि इस वर्ष के दिसंबर तक लगभग 20 लाख लक्ष्य को पूरा करने का स्वास्थ्य विभाग ने निर्णय लिया है। इसलिए टीकाकरण की गति तेज की गई है। गांव से शहर तक विभिन्न जगहों पर केंद्र बनाए जा रहे हैं।

टाटा जामाडोबा टीकाकरण में बेहतर

टीकाकरण में टाटा जामाडोबा सबसे अव्वल पर है यहां 45000 से अधिक लोगों का एक ही टीकाकरण केंद्रों पर वैक्सीन लगाया गया है। इसके बाद सदर अस्पताल, बाघमारा टीकाकरण केंद्र का नंबर आता है। सिविल सर्जन डॉ श्याम किशोर कांत ने बताया कि वैसे स्थान जहां पर लोग टीकाकरण केंद्र तक नहीं आ पा रहे हैं। ऐसे लोगों को चिन्हित करके वहां मोबाइल वैन के अलावा टीका एक्सप्रेस भी भेजा जा रहा है।

Edited By: Mritunjay