धनबाद, जेएनएन : एक एसएमएस और 10 मिनट में 24 कोच की पूरी ट्रेन लबालब। जी हां , बड़े रेलवे स्टेशनों के तर्ज पर धनबाद में भी क्विक वाटरिंग सिस्टम की शुरुआत हो गई। बुधवार को धनबाद दौरे पर आये पूर्व मध्य रेल महाप्रबंधक ललित चंद्र त्रिवेदी ने इसका उद्घाटन किया। इसके बाद धनबाद से निचितपुर गए। निचितपुर में चल रहे सिग्नलिंग सिस्टम के अपग्रेडेशन के लिए बने रिले रूम और पैनल रूम को देखा। प्रधानखंता से पाथरडीह सेक्शन का स्पीड ट्रायल किया। पाथरडीह में यार्ड रिमॉडलिंग की प्रगति देखी। वहां बन रहे प्लेटफॉर्म, पैनल इंटरलाकिंग और नई रेल लाइन को लेकर अब हुए काम की प्रगति की जानकारी ली। उनके साथ डीआरएम आशीष बंसल, सीनियर डीसीएम अखिलेश पांडेय, सीनियर डीएसटीई अजित कुमार समेत अन्य शामिल हैं। 

 पूरे दिन रहेंगे धनबाद में 

रेल जीएम आज दिनभर धनबाद में रहेंगे। पाथरडीह से लौटकर धनबाद कोचिंग डिपो जाएंगे।  कोचिंग डिपो में ट्रेन कोच कैंटीन, पहिया मेंटेनेंस प्लांट, कर्मचारी पार्क और इको फ्रेंडली तालाब का उद्घाटन करेंगे आरपीएसएफ के नए बैरक की भी शुरुआत करेंगे। शाम में सांसद और विधायकों के साथ उनकी बैठक भी है। गुरुवार की सुबह कोडरमा से बरकाकाना व रांची के बीच बिछ रही नई रेल लाइन का निरीक्षण करने जाएंगे।

Edited By: Atul Singh