जागरण संवाददाता, धनबाद: मौर्य, अलेप्पी एक्‍सप्रेस, गंगा-दामोदर एक्‍सप्रेस, गंगा-सतलज और धनबाद-पटना इंटरसिटी के बाद अब रेलवे ने गुजरात जानेवाले यात्रियों को भी तगड़ा झटका देने की तैयारी कर ली है। धनबाद होकर चलने वाली आसनसोल-भवनगर पारसनाथ एक्सप्रेस में जल्‍द स्लीपर के कोच घटाए जाएंगे।

अगले साल 14 मार्च से भावनगर से चलने वाली ट्रेन में नई व्यवस्था प्रभावी हागी। आसनसोल से 16 मार्च से चलने वाली ट्रेन नौ स्लीपर कोच के साथ चलेगी। अभी पारंपरिक आइसीएफ कोच के साथ चलने वाली ट्रेन मार्च से राजधानी सरीखे एलएचबी रैक से चलेगी। एलएचबी रैक जुड़ने से जहां स्लीपर के कोच कम होंगे, वहीं सेकेंड और थर्ड एसी के कोच में बढ़ोतरी होगी।  

स्लीपर के एस-10 व एस-11 में पहले से बुक कराया है टिकट तो बदलेंगी सीटें

आसनसोल से धनबाद होकर गुजरने वाली ट्रेन में अगले साल 30 मार्च तक की बुकिंग शुरू हो चुकी है। ऐसे में पहले से बुक स्लीपर के एस-10 व एस-11 के यात्रियों की सीटें बदल जाएंगी। मौजूदा 72 सीटों वाले कोच की तुलना में एलएचबी कोच में 80 सीटें होंगी। प्रत्येक कोच में आठ यात्रियों को एडजस्ट किया जा सकेगा। अन्य यात्रियों के लिए दूसरे विकल्प तलाशे जा सकते हैं।

यात्रियों की जेब पर बढ़ेगा बोझ

स्लीपर के कोच कम होने से यात्रियों की जेब पर आर्थिक बोझ बढ़ेगा। स्लीपर की  तुलना में सेकेंड और थर्ड एसी का किराया दोगुना से अधिक चुकाना होगा। सेकेंड और थर्ड एसी के कोच बढ़ जाने से एसी में सफर करने वाले यात्रियों की यात्रा  पहले से ज्यादा सुखद होगी। 

ऐसे होगा बदलाव

- अभी पारंपरिक रैक से चलने वाली इस ट्रेन में जनरल चार, स्लीपर 11, थर्ड एसी पांच, सेकेंड एसी का एक कोच है।

- एलएचबी रैक से चलने वाली ट्रेन में जनरल के चार, स्लीपर के नौ, थर्ड एसी के छह और सेकेंड एसी के दो कोच जुड़ेंगे।

Edited By: Deepak Kumar Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट