धनबाद : नए सत्र से आइआइटी आइएसएम के छात्र-छात्राएं ऑनलाइन पढ़ाई करेंगे। नया सत्र तीन अगस्त से शुरू हो जाएगा। ऑनलाइन पढ़ाई केवल प्री फाइनल और फाइनल ईयर के छात्रों के लिए होगी। वहीं प्रथम व द्वितीय वर्ष के छात्र बाहर रहेंगे। इसमें महत्वपूर्ण यह है कि इस दौरान इन छात्र-छात्राओं की चार ऑनलाइन परीक्षा के साथ चार क्विज की परीक्षा भी ली जाएगी। प्रथम और द्वितीय वर्ष के छात्रों को छोड़कर करीब चार हजार छात्र-छात्राओं को इसका लाभ मिलेगा। आइआइटी जेईई छात्रों का जब प्रथम वर्ष में नामांकन लिया जाएगा, उसी समय सेकेंड ईयर की परीक्षा और क्लास के बारे में सोचा जाएगा। वर्तमान में सभी शिक्षकों के पास ऑनलाइन पढ़ाई का प्रर्याप्त साधन है। शिक्षकों को यह छूट दी गई है कि वे ऑनलाइन पढ़ाई में किस प्लेटफार्म का प्रयोग करेंगे। छात्रों के पास पहले से ही मोबाइल नंबर व अन्य डेटा मौजूद है। सिलेबस से संबंधित कोर्स मेटेरियल को एमआइएस पर डाउनलोड कर दिया जाएगा, जिसे छात्र पैरेंटस पोर्टल से डाउनलोड कर सकेंगे। वहीं मिड सेमेस्टर की परीक्षा नहीं ली जाएगी। ऑनलाइन क्लास के दौरान लिया जाने वाला क्विज छात्रों के लिए काफी महत्वपूर्ण होगा। क्विज और असाइनमेंट में छात्रों को कम से कम 52 फीसद लाना होगा। वहीं प्रायोगिक परीक्षा के लिए कम से कम दो क्विज आयोजित की जाएंगी। आइआइटी आइएसएम के निदेशक प्रो. राजीव शेखर ने कहा कि चार ऑनलाइन क्विज होगा। वहीं जब छात्र वापस संस्थान लौटेंगे तो फाइनल परीक्षा ली जाएगी। एमटेक व एमएससी के नए छात्रों की कक्षाएं अक्टूबर से शुरू की जाएंगी। सेकेंड ईयर के छात्रों का दिसंबर में ब्रांच आवंटित किया जाएगा। वहीं प्रथम व द्वितीय वर्ष के छात्र का कक्षाएं जनवरी से शुरू की जाएंगी। इन छात्रों की चलेगी ऑनलाइन क्लास

- बीटेक पांचवां और सातवां सेमेस्टर

- डुअल डिग्री और इंटीग्रेटेड एमटेक का पांचवा, सातवां तथा नौवां समेस्टर

- एमएससी टेक तीसरा और पांचवा सेमेस्टर

- एमबीए का तीसरा तथा बीई सातवां समेस्टर कब-कब होगी क्विज

- 24-29 अगस्त को पहला क्विज

- 7-12 सितंबर को दूसरा क्विज

- 28 सितंबर से तीन अक्टूबर को तीसरा क्विज

- 19-24 अक्टूबर को चौथा क्विज

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस