जागरण संवाददाता, दुमका : सूबे में जनजागरण अभियान के बहाने कांग्रेस एक तीर से कई निशाने साध रही है। सत्ता में झामुमो के संग भागीदार कांग्रेस की मंशा है कि आने वाले दिनों में राज्य की सत्ता में उसकी भूमिका और मजबूत हो और केंद्र में भाजपा को पूरी शिद्दत से चुनौती दी जा सके। दरअसल कांग्रेस के रणनीतिकारों की सोच है कि कभी झारखंड प्रदेश में मजबूत रही कांग्रेस को फिर से अगर अपनी खोई हुई प्रतिष्ठा को हासिल करना है तो इसके लिए पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं को जमीनी स्तर पर पसीना बहाना ही होगा।

इससे ही कांग्रेस संगठन को ताकत व ऊर्जा मिलेगी और विरोधियों को साधने में सहूलियत होगी। इसी उद्देश्य से कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद राजेश ठाकुर जनजागरण अभियान के तहत संताल परगना के विभिन्न जिलों का भ्रमण करते हुए शुक्रवार को दुमका पहुंचे। दुमका के कांग्रेस कार्यालय में पत्रकारों से मुखातिब राजेश ठाकुर ने कहा कि केंद्र में भाजपा की नीतियों के कारण आमजन त्रस्त हैं। महंगाई, बेरोजगारी के कारण हर कोई परेशानी में है। जनजागरण के जरिए कांग्रेस केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों को आमजनों के समक्ष रख रही है और आम जनता भी अब मोदी सरकार के अच्छे दिन के भरोसे पर विश्ववास करना छोड़ रही है। कल तक जनमुद्दों से बेफिक्र मोदी सरकार को अचानक किसानों के हितों की याद आ रही है। कहा कि मोदी सरकार को यह समझ में आ चुका है कि आम जनता भाजपा का साथ छोड़ रही है और यही कारण है कि तीनों कृषि कानून को वापस ले लिया है। कहा कि कांग्रेस की नीतियां सदैव किसान, मजदूर और आमजनों की पक्षधर रही है। एक सवाल पर राजेश ठाकुर ने कहा कि हेमंत सोरेन के नेतृत्व में सरकार बेहतर काम कर रही है। कहीं कोई खटराग नहीं है। कोविड-19 संक्रमण से उबरने के बाद राज्य में विकास की गति तेज हो रही है।

वैट पर मुख्यमंत्री व वित्त मंत्री से किया गया है आग्रह

राज्य में डीजल और पेट्रोल पर समान वैट लिए जाने के मामले में कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव का ध्यान आकृष्ट कराया गया है। राजेश ने कहा कि राज्य में समान वैट लिए जाने के कारण पेट्रोलियम पदार्थाें की कीमत ज्यादा होने से इन्कार नहीं किया जा सकता है लेकिन पेट्राेलियम के मामले में केंद्र सरकार ज्यादा दोषी है। तीन माह पूर्व पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत में लगातार बढ़ोत्तरी के विरोध में कांग्रेस ने पेट्रोल पंपों पर हस्ताक्षर अभियान चलाया था और अब भाजपा जबरन इस मुद्दे पर भ्रम फैलाने के लिए हस्ताक्षर अभियान चला रही है।

एक सवाल पर राजेश ने कहा कि राज्य में पंचायत चुनाव की घोषणा शीघ्र होगी। कहा कि इसके लिए पंचायती राज मंत्री आलमगीर आलम तमाम बिंदुओं पर गहनता से समीक्षा कर रहे हैं। जैक के अध्यक्ष पद पर बहाली के मु़द्दे पर राजेश ने कहा कि सरकार इसको लेकर गंभीर है। शीघ्र ही राज्य में 20 सूत्री कमेटियों का भी गठन हो जाएगा। इस पर सभी दलों में लगभग सहमति बन गई है और फार्मूला भी तैयार है। जेपीएससी में गड़बड़ियों के सवाल पर कहा कि राज्य सरकार तमाम बिंदुओं पर जवाब दे रही है। पूर्व में हुए घोटालों पर भाजपा को अपनी गिरेबां में झांक कर देख लेना चाहिए।

संताल परगना में तेज होगी कांग्रेस की गतिविधियां

इस सवाल पर कि सांगठनिक स्तर पर कांग्रेस की उपेक्षा हुई है के जवाब में राजेश ने कहा कि आने वाले दिनों में संताल परगना में कांग्रेस की गतिविधियां तेज होगी। पूर्व मंत्री बंधु तिर्की को संताल परगना का प्रभारी बनाया गया है। कहा कि उनके नेतृत्व में यहां कांग्रेस गतिशील होगी। मौके पर मौजूद बंधु तिर्की ने कहा कि संताल परगना के सभी 18 विधानसभा और तीन लोकसभा सीटों पर लगातार कार्यक्रम चलाया जाएगा। इसके लिए अनुसूचित जनजाति मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष डा.सुशील मरांडी समेत पार्टी कार्यकर्ताओं से

मंथन कर आगे की रणनीति तय किया जा रहा है। मौके पर पार्टी नेता केशव महतो कमलेश, डा.सुशील मरांडी, दुमका के प्रभारी अशोक वर्मा, अवधेश प्रजापति, महेश राम चंद्रवंशी, युगल किशोर सिंह, कृष्णानंद झा, छवि बागची, राजा मरांडी, संजीत सिंह, सागेन मुर्मू समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे।

Edited By: Atul Singh