जागरण संवाददाता, धनबाद: बंगाल की खाड़ी में बने लो प्रेशर ने डीप डिप्रेशन का रूप ले लिया है। आज रात तक इसके और ताकतवर बनकर चक्रवात में तब्दील होने की चेतावनी जारी हुई है। इसका असर धनबाद और आसपास 26 सितंबर की शाम से दिखने लगेगा। झारखंड के साथ-साथ ओडिशा और आंध्र प्रदेश में इससे भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। खाड़ी में आने वाले इस चक्रवात का नाम गुलाब है जिसका नामकरण पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान ने किया है।

मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद की मानें तो उत्तर और मध्य बंगाल की खाड़ी वाले हिस्से में डीप डिप्रेशन बन गया है जो 14 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। इस तूफान के ओडिशा के गोपालपुर और आंध्र प्रदेश के कलिंगपटनम के पास पहुंचकर बेहद ताकतवर चक्रवात का रूप लेने की संभावना जताई गई है। इस चक्रवात का प्रभाव पूरे झारखंड के में दिखेगा। 26 सितंबर की शाम या रात तक चक्रवात के बादल झारखंड पहुंच जाएंगे। इससे पूरे राज्य में बारिश होगी। 27 सितंबर को बंगाल की खाड़ी में फिर एक लो प्रेशर जन्म लेगा। इससे 29 सितंबर तक धनबाद समेत पूरे राज्य में बारिश की चेतावनी जारी हुई है।

गर्म बादलों की आवाजाही बढ़ने से चढ़ा धनबाद का पारा

बंगाल की खाड़ी में डीप डिप्रेशन के बादलों की सक्रियता बढ़ने से गर्म बादलों के भाप इस ओर आ रहे हैं। इस वजह से धनबाद में धूप छांव की स्थिति बनी हुई है। पर गर्म बादलों के आने की वजह से तापमान में भी थोड़ी बढ़ोतरी हो गई है। गर्मी के साथ उमस का भी एहसास हो रहा है। रविवार को भी दिन में गर्म बादल आते जाते रहेंगे। शाम में मौसम बदल सकता है।

Edited By: Atul Singh