धनबाद, जेएनएन। झारखंड पारा मेडिकल एसोसिएशन के बैनर तले रणधीर वर्मा चाैक पर भूख हड़ताल पर बैठे दो आउटसोर्सिंंग कर्मचारियों की तबीयत शनिवार को बिगड़ गई। दोनों को इलाज के लिए पीएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया है।

पीएमसीएच में अनुबंध पर कार्यरत कर्मचारी एजेंसी द्वारा हटाए जाने के बाद अपनी मांगों को लेकर भूख हड़ताल पर हैं। शुक्रवार की शाम मोहम्मद गुलाम की स्थिति खराब हो गई थी। इसके बाद देर रात संतोष कुमार महतो की भी तबीयत खराब हो गई. एसोसिएशन के राजू कुमार महतो ने बताया कि लगातार आंदोलन करने के बावजूद पीएमसीएच प्रबंधन और जिला प्रशासन पहल नहीं कर रहा है। ऐसे में हर दिन भूख हड़ताल करने वालों की स्थिति खराब हो रही है। एक ओर सरकार युवाओं को रोजगार देने की बात कर रही है, तो दूसरी ओर धरातल पर युवाओं को ठगा जा रहा है। उन्होंने कहा कि पीएमसीएच के पुराने कर्मचारियों को वेतन और बोनस 3 साल से बकाया है। नई एजेंसी ने पुराने आउटसोर्सिंग कर्मचारियों के समायोजन की बात कही थी, लेकिन बाहर के लोगों को काम पर रख लिया गया है। जबकि पहले से जो काम कर रहे थे, उन्हें हटा दिया गया है। जबतक हमारी मांगे पूरी नहीं हो जाती आंदोलन जारी रहेगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021