जागरण संवाददाता, धनबाद : हर घर तिरंगा अभियान के तहत प्रधान डाकघर अब तक 50 हजार तिरंगे की बिक्री कर चुका है। रविवार को भी डाकघर खुला हुआ है। हालांकि प्रधान डाकघर में तिरंगा झंडा का स्टॉक खत्म हो चला है। पिछले आठ दिनों में तीन बार तिरंगा झंडे का स्टॉक मंगाया गया। इसे खरीदने के लिए शहर के विभिन्न क्षेत्रों से लोग आ रहे हैं। प्रति पीस 25 रुपये की दर से 30 बाई 30 का तिरंगा मिल रहा है। झंडे की बिक्री हुई है। आजादी का अमृत महोत्सव मनाने को लेकर लोग तिरंगा खरीद कर रहे हैं।

वरीय डाकपाल राजू कुमार विद ने बताया कि डाकघर में झंडे का स्टॉक लगभग खत्म हो गया है। विधायक राज सिन्हा एक हजार तिरंगा झंडे की खरीदारी की है। सीआईएसएफ की ओर दो हजार, शहर से लेकर ग्रामीण एरिया तक विभिन्न स्कूल, कॉलेज प्रबंधन सहित शहर के अन्य गणमान्य लोगों ने भी झंडे खरीदे हैं। तिरंगे झंडे की बिक्री को लेकर विभाग ने अलग से काउंटर खोला गया है।

मुख्यालय को पत्राचार किया गया था। लेकिन स्टाक नहीं होने के कारण तिरंगा नहीं मिल पाया। उन्होंने बताया कि फिलहाल आसपास के उप डाकघरों से तिरंगा मंगाया गया है इसके लिए रविवार को भी काउंटर खोल कर रखा गया है उन्होंने बताया की तिरंगे झंडे की बिक्री को लेकर विभागीय कर्मचारी को स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि कटा फटा या किसी तरह का तिरंगा झंडा में डिफेक्ट होने पर उसकी बिक्री नहीं करनी है साथ ही यदि कोई व्यक्ति डिफेक्ट तिरंगा लेकर चला गया है और यदि लौटाना चाहता है, तो उसे वापस कर दूसरा दिया जाएगा।

Edited By: Atul Singh