जामाडोबा : भूलन बरारी 16 नंबर निवासी जियलगोरा अस्पताल में कार्यरत ¨चतामणि मंझियाइन की 17 वर्षीय पुत्री अंजली कुमारी ने परिवारिक कलह से तंग आकर बुधवार को अपने कमरे में दुपंट्टे के सहारे छत की हुक से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पाकर जोड़ापोखर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। घटना के वक्त परिजन घर में नहीं थे।

मां ने बताया कि अंजली संस्कृति विद्या मंदिर से मैट्रिक की परीक्षा पास करने के बाद घर पर ही रहती थी। पैतृक गांव पुरुलिया जिला में उसकी शादी की बातचीत चल रही थी। इस कारण वह नाराज रहने लगी थी। कहा कि घटना के वक्त मैं अस्पताल में काम से आई थी। उसकी बड़ी बहन पुष्पा तालाब में स्नान करने गई हुई थी। छोटा भाई कृष्णकांत स्कूल गया हुआ था। घटना की खबर पाकर सभी परिजन घर पहुंचे। अंजली की मौत से परिजन रो-रोकर बेहाल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस