जासं, झरिया: झारखंड प्रांतीय मारवाड़ी युवा मंच की अष्टम कार्यकारिणी समिति (2021-23) में मंच की झरिया शाखा के पांच सदस्यों को स्थान मिला है। इससे यहां के लोगों मे हर्ष है। मालूम हो कि 25 जून 1985 को स्थापित झरिया शाखा अपने स्थापना काल से ही अविभाजित बिहार व झारखण्ड के अलावा देश में अपने सामाजिक कार्यों से एक अलग स्थान बनाने में सफलता प्राप्त की है। सत्र 2020-21 के लिए मंच की झरिया शाखा को सर्वश्रेष्ठ सामाजिक सम्मान कार्यक्रम, सर्वश्रेष्ठ जीव दया कार्यक्रम, कोरोना महामारी के दौरान उल्लेखनीय जनसेवा के लिए पुरस्कृत किया गया है। इसके अलावा झरिया शाखा को प्रांत की विशिष्ट शाखा व प्रांतीय अधिवेशन के आयोजन के लिए अध्यक्षीय पुरस्कार भी प्राप्त हुए हैं। इस सत्र में विवेक लिल्हा निर्विरोध प्रांतीय उपाध्यक्ष (मण्डल घ) के रुप में चयनित हुए हैं। इन्होंने सत्र 2012-13 में शाखा का नेतृत्व किया था। इनके कार्यकाल में शाखा को झारखंड प्रांत में सर्वश्रेष्ठ शाखा का पुरस्कार प्राप्त हुआ था। वर्तमान सत्र में शाखा के उपाध्यक्ष मनीष शर्मा को शिक्षा व राष्ट्रीय विकास, एकता एवं सुरक्षा का प्रांतीय संयोजक व कोषाध्यक्ष विशाल पलसानिया को विशेष आमंत्रित सदस्य मनोनीत किया गया है।

आमंत्रित सदस्य के रूप में गोपाल कटेसरिया व स्थाई आमंत्रित सदस्य के रूप में असीम अग्रवाल का चयन भी प्रान्तीय कार्यकारिणी समिति में किया गया है। उल्लेखनीय है कि सत्र 2005-06 में न सिर्फ झारखण्ड प्रांत बल्कि देश में झरिया शाखा की अतुलनीय सेवा कार्यों से प्रभावित होकर शीर्ष नेतृत्व ने झरिया शाखा को प्रान्त व राष्ट्र की सर्वश्रेष्ठ शाखा घोषित किया था। उक्त सत्र में असीम अग्रवाल ने बतौर अध्यक्ष व गोपाल कटेसरिया ने उपाध्यक्ष के रूप में अपनी सेवायें प्रदान की थीं। झरिया शाखा को राष्ट्रीय स्तर पर वैवाहिक परिचय सम्मेलन, सामूहिक विवाह, आधुनिक उपकरणों से सुसज्जित व्यायामशाला, मुक्तिधाम में लकड़ी की व्यवस्था, अवसर (उद्योग स्थापना एवं विकास का) नामक वर्कशॉप आदि कार्यक्रमों के जनक के रूप में जाना जाता है। इन सभी कार्यक्रमों को मारवाड़ी युवा मंच की झरिया शाखा ने राष्ट्रीय स्तर पर प्रथम आयोजन किया। इसका अनुसरण देश की कई शाखाओं ने किया।

Edited By: Atul Singh