जागरण संवाददाता, धनबाद। धनबाद के रिकवरी एजेंट उपेंद्र सिंह को गुरुवार शाम बैंकमोड़ जैसी भीड़भाड़ वाली जगह पर सरेआम गोली मार दी गई। अल्टो कार पर सवार उपेंद्र को बाइक सवार अपराधियों ने निशाना बनाया। उन्हें पसली के नीचे पांच गोलियां लगने की बात कही गई है। गंभीर स्थिति में उन्हें पहले केंद्रीय अस्पताल, फिर दुर्गापुर मिशन अस्पताल ले जाया गया।

वारदात को अंजाम देनेवालों की संख्या चार-पांच बताई गई। दो ने हेलमेट पहन रखी थी जबकि अन्य ने भी अपना चेहरा ढक रखा था। खबर पाकर सिटी एसपी पीयूष पांडेय, डीएसपी (विधि व्यवस्था) मुकेश कुमार आदि मौके पर पहुंचे। इधर मीडिया को उपेंद्र ने बताया कि उन्हें गैंग्स ऑफ वासेपुर के एक धड़े के सरगना प्रिंस खान और उसके साथी ऋतिक ने गोली मारी है। उन्होंने अपने दो रिश्तेदार पिंटू और सिंटू पर भी वारदात में शामिल होने का आरोप लगाया। हालांकि खबर लिखे जाने तक उक्त बयान पुलिस को नहीं दिया गया था। 

रोजाना बैंकमोड़ जाते थे उपेंद्र :

उपेंद्र रोजाना बैंकमोड़ स्थित एक जिम जाया करते थे। शाम में जिम जाने की अपराधियों को जानकारी थी। गुरुवार को भी वे अल्टो 800 कार से पहुंचे थे। तय जगह पर कार लगाते ही घात लगाए हमलावरों ने फायरिंग शुरू कर दी। कार की बायीं तरफ पिछली सीट पर बैठे उपेंद्र पर ताबड़तोड़ करीब आधा दर्जन फायर झोंक दिए।

कार की पिछली सीट के शीशे में चार गोलियों के छेद मिले। एक गोली कार को चीरती हुई दूसरी तरफ निकल गई। पुलिस ने मौके से चार खोखे बरामद किए। कार में बैठे उनके दो साथियों ने गोली लगने के बाद तत्काल दूसरे वाहन की व्यवस्था की। इसके बाद सभी उपेंद्र को केंद्रीय अस्पताल ले गए। अस्तपाल में प्राथमिक उपचार के बाद करीब 20 मिनट के अंदर ही उन्हें दुर्गापुर मिशन अस्पताल भेज दिया गया।

Posted By: Sachin Mishra