संस, टुंडी : पश्चिमी टुंडी की फतेहपुर व जताखूंटी पंचायत में शनिवार की देर रात 19 हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया। हाथियों ने तीन घर एवं चारदीवारी तोड़ डाले। आधा दर्जन घरों में रखे अनाज चट कर गए। हाथियों के आने की सूचना मिलते ही पूरे गांव में अफरातफरी मच गई। सभी लोग अपने अपने घरों से भागकर गांव के बाहर जमा हुए। ग्रामीणों के हल्ला करने पर आसपास के लोग भी जुटे और काफी मशक्कत के बाद हाथियों के झुंड को पहाड़ के तरफ रुख करने में कामयाब हुए। फिलहाल हाथियों का झुंड चकामानपुर के पहाड़ पर डेरा डाले हुए है। वन विभाग की मशालची टीम झुंड पर नजर रखे हुए हैं। जानकारी हो कि शनिवार की रात करीब एक बजे गिरिडीह के पीरटांड़ इलाके से बरकार नदी को पार कर हाथियों का झुंड फतेहपुर गांव घुसा और चरचा टुडू एवं छोटका सोरेन के घर को तोड़ा और घर में रखे अनाज को चट कर गया एवं सामान को नष्ट कर दिया। झुंड को देख पूरे गांव के लोग अपने अपने घरों से जान बचाकर भागे। झुंड ने श्यामलाल हेम्ब्रम के मिट्टी के चारदीवारी को भी तोड़ दिया। हाथियों की झुंड ने पूरे गांव को एक तरह से कब्जा कर लिया था। हालांकि गा्रमीणों के प्रयास से फतेहपुर से निकलकर झुंड जताखुंटी के तरफ चला गया। हाथियों ने सूरजमुनि का घर तोड़ दिया। नुनूलाल टुडू, शनिचर मुर्मू एवं मोतीलाल टुडू के खलिहान में रखे लगभग सौ मन धान खा गए। आसपास के लोग जमा हुए और मशाल जलाकर हाथियों के झुंड को चकमानपुर पहाड़ पर चढ़ाने में सफल हुए।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप