जागरण संवाददाता, धनबाद : एकल अभियान के युवा विभाग एकल फ्यूचर की ओर से बुधवार को धनबाद महानगर के विभिन्न शबरी बस्तियों में शरद पूर्णिमा कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शहरवासी व ग्रामवासी के बीच स्नेह व सहकारिता के सेतु का निर्माण हो सके, इसी निमित शरद पूर्णिमा के पावन अवसर पर देसी गौ के दूध से निर्मित अमृतमय खीर का सभी ने एक साथ प्रसाद ग्रहण किया। यह कार्यक्रम एकल फ्यूचर झारखंड-बिहार संभाग के अध्यक्ष आयुष तिवारी की देखरेख में हुआ। धनबाद महानगर के साथ बोकारो महानगर के शबरी बस्ती में भी शरद पूर्णिमा कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

गोल्फ ग्राउंड शबरी बस्ती में प्रभारी अभिभावक रोहित बजाज, समन्वयक रोहित भारती, सदस्य राणा घोष, कमल किशोर, विपुल, विष्णु, काशी राम, शंभू कुमार, राजीव, सुसनीलेवा शबरी बस्ती प्रभारी अभिभावक आइआइटी आइएसएम के सुनील कुमार, मनीष अत्रि, कार्यक्रम समन्वयक सेवाश्री राय, सदस्य डा अरविंद कुमार मिश्रा, सुब्रतो हलदर, ढांगी शबरी बस्ती में प्रभारी अभिभावक पल्लव प्रसाद, दीपक कुमार, समन्वयक अंकित पांडेय, सदस्य योगेश कुमार, आदित्य तिवारी, आदित्य सिंह, अनीश, सचिन दुबे, हर्षित पांडेय और बोकारो के मोदीडीह शबरी बस्ती में अभिभावक सीपी सिंह, समन्वयक ब्रजेश ब्रजवासी एवं सदस्य प्रशांत द्विवेदी की देखरेख में सफलतापूर्वक कार्यक्रम हुआ। इस अवसर पर गीत, परिचय, महापुरुषों की माला का खेल, शिक्षा, स्थानीय व राष्ट्रीय विषयों पर चर्चा भी हुई।

कुसुम विहार में आरएसएस का शरद पूर्णिमा उत्सव

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की ओर से बुधवार को कुसुम विहार में शरद पूर्णिमा उत्सव का आयोजन हुआ। आरएस के संपर्क प्रमुख सुनील कुमार की देखरेख में कार्यक्रम संपन्न हुआ। बड़ी संख्या में संघ के कार्यकर्ता शामिल हुए। खीर प्रसाद ग्रहण किया। सभी को बताया गया कि चंद्रमा जब अपनी 16 कलाओं के संग अवतरित होते हैं शरद पूर्णिमा की रात आकाश से अमृत वर्षा करते हैं। इसी तरह जब हमारा हिंदू समाज अपने सभी जाति वर्गों के साथ एकजुट होगा, तभी भारत हिंदू राष्ट्र बनेगा। भारतमाता परम वैभव के शिखर पर विराजमान होंगी। सशक्त हिंदू ही भारत को विश्व गुरु बना पाने में सक्षम होगा और संपूर्ण विश्व में भारतीय वांग्मय की अमृत वर्षा होगी। इसी उद्देश्य के साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक प्रति वर्ष शरद पूर्णिमा महोत्सव मनाते हैं और जाति-वर्ग का भेद भुलाकर इस अप्रतिम रात्रि को साथ-साथ अमृत समान खीर का सहभोज करते हैं।

Edited By: Atul Singh