धनबाद, जेएनएन। Eid Ul Fiter 2020 धनबाद कोयलांचल और संताल में ईद उल फितर मन रही है। हालांकि वैश्विक महामारी कोरोना की वजह से पूरे देश की तरह धनबाद में भी इस त्योहार की रौनक फीकी नजर आ रही है। धनबाद के रेलवे स्टेडिमय में ईद की नमाज पढ़ने की परंपरा रही है। इसमें हजारों लोग शरीक होते रहे हैं। लेकिन इस बार रेलवे स्टेडिमय में ईद की नमाज नहीं पढ़ी गई। मुस्लिम धर्मावलंबियों ने घरों में ही ईद की नमाज पढ़ी। सीधे कहें तो इस बार ईद का उल्लास घरों के अंदर ही सिमट गया है। 

 

रमजान के पवित्र महीने के खत्म होने पर ईद मनाई जाती है। शनिवार को भारत में चांद नहीं लिखा गया था। इसके बाद दिल्ली के जामा मस्जिद समेत देश भर के मस्जिदों  के इमाम ने ऐलान किया था कि 25 मई यानी सोमवार को ईद मनाई जाएगी। और आज ईद मनाई जा रही है। कोरोना संक्रमण का डर और लॉकडाउन की बंदिशों की वजह से धनबाद में सार्वजनिक स्थानों पर ईद की नमाज नहीं पढ़ी गई। घरों में ही नमाज पढ़ी गई। कहीं-कहीं मस्जिदों के अंदर गिनती की संख्या में लोगों ने शरीरिक दूरी का पालन करते हुए नमाज पढ़ी। लॉकडाउन की वजह से ईद की रौनक गायब है। लोग ईद मुबारक देने के लिए बड़ी संख्या में सड़कों पर निकलते थे। यह नजारा देखने को नहीं मिल रहा है। सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। धनबाद के पुराना बाजार स्थित मस्जिद में भी सन्नाटा पसरा रहा। 

ईद पर क्वारंटाइन सेंटरों में दिया गया विशेष नाश्ता

उपायुक्त अमित कुमार के निर्देश पर ईद-उल-फितर के अवसर पर जिले के सभी क्वारंनटाइन सेंटरों में विशेष नाश्ता दिया गया। जिले के सदर अस्पताल, पीएमसीएच, एसएसएलएनटी, रेलवे अस्पताल, निरसा पॉलिटेक्निक, तोपचांची, बाघमारा, कलियासोल सहित अन्य सभी क्वारंटाइन सेंटरों में रखे गए लोगों तथा राहत शिविरों में विशेष नाश्ता दिया गया। विशेष नाश्ता में पूरी, सब्जी, सेवई, फल, शर्बत दिया गया। इस दौरान शारीरिक दूरी का पालन किया गया।

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस