श्रवण कुमार, मैथन। डीवीसी के कर्मी, अधिकारी और उनके आश्रित अब सीएमसी वेल्लोर सहित देश के 40 अस्पतालों में कैशलेस इलाज करवा सकेंगे। इससे डीवीसी के लगभग नौ हजार कर्मी व अधिकारी लाभान्वित होंगे। साथ ही डीवीसी के सेवानिवृत्त 24 हजार कर्मी भी कैशलेस मेडिकल सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। डीवीसी प्रबंधन ने अपने कर्मियों और उनके आश्रितों को कैशलैस इलाज के लिए सीएमसी वेल्लोर, आमरी कोलकाता, फॉर्टिस कोलकाता, धनबाद के एशियन जलाना अस्पताल, बोकारो जनरल अस्पताल, मिशन अस्पताल दुर्गापुर, मैक्स नई दिल्ली, मेडिका कोलकाता, जेपी अस्पताल नोएडा समेत मेदांता रांची से अपने कर्मियों के कैशलेस इलाज के लिए करार किया है। इसके तहत डीवीसी के कर्मी अधिकारी इन अस्पतालों में अपना और अपने आश्रितों का कैशलेस इलाज करवा सकेंगे। इस संबंध में डीवीसी प्रबंधन ने 20 जुलाई को 40 अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा का आदेश जारी किया है।

सेवानिवृत्त अधिकारियों-कर्मचारियों को भी मिलेगा लाभ

डीवीसी के सेवानिवृत्त अधिकारी व कर्मचारियों के लिए भी इलाज की सुविधा दी गई है। डीवीसी के सेवानिवृत्त अधिकारी 10 लाख और सेवानिवृत्त कर्मचारी साढ़े सात लाख तक मेडिकल सुविधा उठा सकते हैं। सेवानिवृत्त कर्मी, उनकी पत्नी और 18 वर्ष से नीचे के बच्चे मेडिकल सुविधा ले सकते हैं। हालांकि, विशेष परिस्थिति में अति गंभीर बीमारी के इलाज में 20 लाख तक की सुविधा का भी प्रावधान किया गया है। डीवीसी पेंशनर समाज प्रबंधन से सेवानिवृत्त कर्मियों के लिए पदाधिकारियों की तरह 10 लाख तक के इलाज की सुविधा की मांग कर रहा है।

इन अस्पतालों में कैशलेस इलाज की सुविधा

सीएमसी वेल्लोर, आमरी कोलकाता, मिशन अस्पताल दुर्गापुर, बोकारो जनरल अस्पताल, एशियन जलाना अस्पताल धनबाद, सेमफोर्ड रांची, टाटा मेडिकल सेंटर कोलकाता, रुबी जनरल अस्पताल कोलकाता, पीयरलेस कोलकाता, मेदांता रांची, केएम मेमोरियल अस्पताल बोकारो, फोर्ड अस्पताल पटना, बीपी पोद्दार अस्पताल कोलकाता, मेडिका कोलकाता, डीइएसएलएन अस्पताल कोलकाता, श्रीमती पार्वती देवी अस्पताल अमृतसर, फॉर्टिस कोलकाता, द कोलकाता मेडिकल रिसर्च सेंटर, एचजेडबी आरोग्यम जमशेदपुर, रुबान अस्पताल पटना, बीएम बिरला एचआरसी कोलकाता, अपोलो कोलकाता, दिशा आई केयर सेंटर बैरकपुर, सीएएमआरआई वर्तमान, विवेकानंद अस्पताल दुर्गापुर, सुश्रुत आई फाउंडेशन कोलकाता, इंस्टिट्यूट ऑफ न्यूरोसाइंसेज कोलकाता, चरनोक अस्पताल कोलकाता, मैक्स नई दिल्ली, महाराजा अग्रसेन अस्पताल नई दिल्ली, जेपी अस्पताल नोएडा, गौरी देवी अस्पताल दुर्गापुर, आइक्यू सिटी नारायणा मल्टी स्पेशलिस्ट दुर्गापुर

Edited By: Mritunjay