संवाद सहयोगी, चासनाला (धनबाद)। झारखंड में धनबाद स्थित चासनाला साउथ कॉलोनी निवासी जनता मजदूर संघ कुंती गुट शाखा अध्यक्ष रंजय सिंह को बागपत जेल में बंद उत्तर प्रदेश के माफिया बृजेश सिंह के नाम से कॉल आया। फोन करने वाले ने कहा कि कोई शक हो तो बागपत जेल मिलने आ जाओ। रंजय सिंह ने मामले की शिकायत पुलिस से की है। फोन करने वाले शख्स ने रंजय सिंह से सीधे रंगदारी तो नहीं मांगी, हां एक आदमी को ठहराने की व्यवस्था करने के लिए कहा है।

रंजय ने पुलिस को बताया कि आठ सितंबर की रात 9:15 बजे उसके मोबाइल पर फोन आया। कॉलर ने खुद को बृजेश सिंह बताया। डर से रंजय ने फोन काट दिया। कन्फर्म करने के लिए दोबारा उस नंबर पर कॉलबैक किया तो सामने वाले शख्य ने कहा कि बागपत जेल से डॉन बृजेश सिंह बोल रहा हूं। मेरा आदमी रंजीत मिश्रा सिंदरी जाएगा। उसके रहने की व्यवस्था कर देना। उसने तुमको कुछ दिन पहले भी फोन किया था। जितना बोल रहा हूं उतना सुनो। रंजय को कॉलर की बातों पर यकीन नहीं हुआ तो सामने वाले ने हड़काते हुए कहा कि हम बृजेश सिंह ही बोल रहे हैं। अगर विश्वास नहीं हो रहा है तो बागपत जेल में आकर मिलो। सारा भ्रम दूर हो जाएगा।

जुलाई में भी आया था फोन: रंजय ने पुलिस को बताया कि जुलाई में रंजीत मिश्रा के नाम से फोन कॉल किया गया था। उसने कहा था कि वह बागपत जेल से बाहर आ गया है। वह सुनील राठी का खास आदमी है। वही सुनील राठी, जिसने मुन्ना बजरंगी की हत्या की है। बकौल कॉलर वह सिंदरी में रह चुका है। दोबारा वहां आना है। रहने की व्यवस्था कर देना। रंजय ने पूछा कि नंबर कहां से मिला तो कॉलर ने बताया कि फेसबुक से निकाला। इसके बाद भी उस नंबर से चार बार मिस कॉल आया।

खौफ में परिजन : जमसं नेता के परिजन भी दहशत में हैं। रंजय की पुत्री ने धनबाद एसएसपी को मैसेज भेज कर सूचना दी है। एसएसपी ने रंजय के मोबाइल पर फोन कर मामले की जानकारी ली। सुरक्षा मुहैया कराने की बात कही। देर रात पाथरडीह थाना प्रभारी फिलिप मिंज और सिंदरी डीएसपी पीके केसरी ने रंजय के आवास पहुंचकर पूछताछ की।

कहीं मेरे पापा के साथ भी वह न हो जो रंजीत के साथ हुआ : रंजय की पुत्री ने एसएसपी के मोबाइल पर मैसेज भेजकर कहा है कि अनजान नंबर से पापा को धमकी मिली है। अपराधी को तुरंत गिरफ्तार कीजिए, नहीं तो परिवार के सारे लोग आत्महत्या कर लेंगे। कहीं मेरे पापा के साथ भी वही न हो जो झाविमो नेता रंजीत सिंह के साथ हुआ। मालूम हो कि रंजय भी सिंह मेंशन का करीबी है।

जमसं के रंजय सिंह ने पाथरडीह थाना में शिकायत की है। छानबीन की जा रही है। मोबाइल को सर्विलांस में लगाया गया है। जल्द मामले का खुलासा होगा।'
-पीके केसरी, डीएसपी ¨सदरी