धनबाद : प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के तहत फुटपाथ विक्रेताओं को रोजगार खड़ा करने के लिए दस-दस हजार रुपये का लोन दिया गया है। इस योजना में सबसे महत्वपूर्ण डिजिटल लेनदेन है। डिजिटल लेनदेन करने पर विक्रेताओं को 50 से 100 रुपये तक का कैशबैक मिलेगा, बशर्ते कम से कम एक रुपये का लेनदेन जरूर किया गया हो। फुटपाथ विक्रेता डिजिटल लेनदेन कर प्रतिमाह 100 रुपये तक कैशबैक के हकदार होंगे। सिर्फ यही नहीं, लिए गए लोन के ब्याज पर सात फीसद तक की छूट भी मिलेगी। डिजिटल लेनदेन के प्रति फुटपाथ विक्रेताओं को जागरूक करने के लिए नगर विकास विभाग की ओर से भी डिजिटल विशेष अभियान की शुरुआत की गई है। इसके तहत नगर निगम के सिटी मिशन मैनेजर राजन कुमार के नेतृत्व में फुटपाथ दुकानदारों को डिजिटल लेनदेन के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है। राजन कुमार ने बताया कि नगर निगम क्षेत्र में पीएम स्वनिधि योजना के तहत 2079 फुटपाथ दुकानदारों को लोन दिया जा चुका है। लगभग तीन हजार दुकानदारों को लोन देने का लक्ष्य रखा गया है। दुकानदारों को पेटीएम, फोन पे, गूगल पे या संबंधित बैंक के एप से अपने बचत खाते को जोड़ते हुए डिजिटल लेनदेन करने को कहा गया है।

यहां बता दें कि कोरोना संकट और लॉकडाउन की वजह से रेहड़ी-पटरी वालों की आजीविका पर असर पड़ा है। केंद्र सरकार ने ऐसे लोगों की मदद के लिए स्वनिधि योजना की शुरुआत एक जून 2020 की थी। इस योजना के तहत बिना किसी गारंटी की रेहड़ी-पटरीवालों को 10 हजार रुपये तक लोन दिया जा रहा है। फैक्ट फाइल

- शहरी इलाकों में स्ट्रीट वेंडर्स को एक वर्ष के दस हजार रुपये तक का लोन।

- कर्ज के लिए किसी तरह की गारंटी नहीं।

- लोन का मासिक किस्तों में भुगतान करना होगा।

- नियमित भुगतान पर सात फीसदी सालाना की ब्याज सब्सिडी।

- ब्याज सब्सिडी की राशि सीधे लाभार्थी के खाते में तिमाही आधार पर जाएगी।

- लोन का समय से पहले भुगतान करने पर सब्सिडी एक ही बार में खाते में आ जाएगी।

- डिजीटल ट्रांजेक्शन करने वालों के लिए 1200 रुपये सालाना तक का कैशबैक।

- पहले लोन के समय पर और जल्द भुगतान की स्थिति में लाभार्थी अधिक लोन प्राप्त करने के होंगे पात्र।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021