जागरण संवाददाता, धनबाद: रेलवे के निजीकरण के खिलाफ मंगलवार को रेल कर्मचारी सड़क पर उतरे। इस दौरान रेल बचाओ देश बचाओ के नारे के साथ जमकर नारेबाजी की गई। ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के बैनर तले बड़ी संख्या में रेल कर्मचारी शहर के हिल कॉलोनी यूनियन ऑफिस के पास पहुंचे और निजीकरण के खिलाफ अपना गुस्सा निकाला। यूनियन नेताओं ने बताया कि ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के आह्वान पर ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन ने भोजन अवकाश के दौरान निजीकरण के खिलाफ प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन में सैकड़ों रेल कर्मचारियों ने भाग लिया।

मीडिया प्रभारी एनके खवास ने बताया कि निगमीकरण और निजीकरण बंद करने की मांग को लेकर आज पूरे भारतीय रेलवे के कर्मचारी ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन से जुड़े तमाम रेल संगठन और यूनियन प्रदर्शन कर रही हैं। रेल कर्मचारी अपने काम को प्रभावित किए बिना इस आंदोलन में शामिल हुए हैं और अपनी आवाज रेल मंत्रालय तक पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं।

ईसीआरकेयू के टीके साहू, एके दा, परमेश्वर कुमार, सुदर्शन महतो, सोमेन दत्ता,ए पूरन, शिवा दास,राकेश कुमार लकडा, गोल्डन कुमार, सुबोध कुमार सिंह, ऋषिकेश प्रसाद राय,आरबी तिर्की, सुभाष कुमार यादव,संजीत कुमार, मृग भूषण कुमार, प्रदीप्तो सिन्हा, मुकेश पंडित, रंजीत कुमार, जफर सिद्दीकी, राजीव कुमार, मनोज कुमार तिवारी, इकबाल, कैलाश महतो, अभिषेक कुमार, मिथिलेश कुमार सिंह,उमेश कुमार, जयपाल सोनी, गजेंद्र कुमार सिंह, रवि शंकर कुमार, कमाल अशरफ, धनंजय प्रसाद, श्रवण कुमार, के महतो, राजेश कुमार महतो, रवि रोशन कुमार, संजीव कुमार, लक्ष्मी रविदास, एमके मुकेश, अमित कुमार और बीएन चटर्जी ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।

Edited By: Atul Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट