जासं, धनबाद: रविवार को बैंक मोड़ विकास नगर निवासी कोयला व्यवसायी पप्पू मंडल के घर में फायरिंग। मामले में पुल‍िस को शक क‍िसी पर और घटना की ज‍ि‍म्‍मेवारी ले रहा कोई और। कहानी में ट्वीस्‍ट।इसमें पुलिस अमन के गुर्गे छोटु उर्फ आशीष रंजन की तलाश तेज कर दी है। दूसरी ओर प्रिंस का गुर्गा मेजर एक विडियो जारी कर इस हमले की जिम्मेवारी ले रहा है।  प्र‍ि‍ंंस खान खुद को छोटे सरकार के रूप में प्रस्‍तुत करता है। उसी का गुर्गा मेजर कोयला व्‍यवसायी पप्‍पु मंडल के घर में हुई फायर‍िंंग की ज‍िम्‍मेवारी ले रहा है। पुल‍िस कार्रवाई के ल‍िए अमन के गुर्गे छोटू की तलाश तेज कर दी है। अब सच्‍चाई में जांच के बाद ही स्‍पष्‍ट हो पाएगी। 

मेजर ने क्‍या कहा वीड‍ियो में   

मेजर वीडियो में चेहरा ढक रखा है। वीडियो में वह बोल रहा है कि कतरास के मार्बल दुकान पर भी उसी के  लोगों ने फायरिंग की थी। जो भी छोटे सरकार की बात नहीं मानेगा। उसे मार दिया जाएगा। गौरतलब हो कि रविवार की सुबह फायरिंग करने के बाद तीनों अपराधियों ने छोटू सिंह के नाम से उनके घर के बाहर पर्चा फेंक दिया है। हालांकि उसमें रंगदारी की रकम नहीं लिखी है। अब पुल‍िस के ल‍िए वीड‍ियो की सत्‍याता की जांच करना सरदर्द हो गया है। इस मामले में फ‍िलहाल पुल‍िस कुछ भी बताने से इन्‍कार कर रही है। मामले में अमन के गुर्गे का हाथ है या प्र‍िंंस के पुल‍िस पता लगाने में जुटी है।   

उछलता रहा है छोटू का नाम

जेसी मल्लिक निवासी छोटू कतरास न‍िवासी नीरज तिवारी की हत्या के बाद से ही फरार है। नीरज पुलिस मुखबिर का आरोप‍ित था। छोटू का नाम इससे पहले भी अपराध की दुन‍िया में उछलता रहा है। प‍िछले द‍िनों जब धनबाद में प्रस‍िद्ध डॉक्‍टर समीर कुमार से रंगदारी मांगी गई थी उसमें भी छोटू का नाम सामने आया था। दरअसल जब अमन स‍िंंह ने डाक्टर समीर से रंगदारी मांगी थी तो भी छोटू  के नाम का इस्तेमाल हुआ था। पप्पु मंडल केंदुआ व पुटकी में कोयले का काम करते है। गौरतलब है कि अमन सिंह कोयला कारोबारियों से लगातार रंगदारी वसूल रहा है। जो पैसा नहीं दे रहा है उसे धमकी भी दी जा रही है।

नन्हें की हत्या के बाद से फरार है प्रिंस

नया बाजार जमीन कारोबारी नन्हें की हत्या के बाद से ही प्रिंस खान फरार है। फरारी में उसने दो - तीन ठेकेदार व व्यपारियों के घर के बाहर फायरिंग करवाई है। वहीं कई लोगों को जान से मारने की धमकी भी दी है। इस दौरान प्रिंस ने एक दर्जन विडियो जारी किया है। मगर अभी तक धनबाद पुलिस उसे और उसके भाई गोपी खान को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

Edited By: Atul Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट