जागरण संवाददाता, धनबाद : होल्डिंग टैक्स चोरी के खिलाफ नगर निगम ने जांच के साथ जुर्माना वसूली की कार्रवाई तेज कर दी है। इस बीच अब तक सरायढेला व बैंक मोड़ क्षेत्र में लगभग सौ प्रतिष्ठानों की जांच में अधिकांश में टैक्स चोरी की गड़बड़ी उजागर हुई है। इसकी रिपोर्ट जांच टीम ने नगर आयुक्त सत्येंद्र कुमार को सौंप दी गई है।

इस रिपोर्ट के आधार पर मंगलवार से गड़बड़ी से जुड़ी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों की जियो टैग के साथ जुर्माना के अलावा बकाया होल्डिंग टैक्स की वसूली को डिमांड नोटिस भेजा जाएगा। वहीं मंगलवार से ही निगम की जांच कार्रवाई की जद में क्षेत्र के विवाह भवन व बैंकक्वैट भी आएगा।

निगम की ओर से गठित तीन इंफोर्समेंट टीम हफ्ते भर से व्यापारिक प्रतिष्ठानों की जांच कर रही है। लगभग एक सौ प्रतिष्ठानों की जांच की गई। इनमें लगभग साठ की संख्या बैंक मोड़ के प्रतिष्ठान हैं। जांच में उजागर हुई कि अधिकांश प्रतिष्ठान निर्माण का वास्तविक तथ्य छिपाते हुए काफी कम टैक्स जमा कर रहे थे। कई ने तो अब होल्डिंग नंबर तक नहीं लिया। ऐसे सभी भवनों की मापी की गई। जबकि तीन दिन पूर्व जांच को लेकर टीम स्पष्ट कर चुकी थी कि बैंक मोड़ के जेपी अग्रवाल बिल्डिंग व चक्रवर्ती अस्पताल की जांच में होल्डिंग टैक्स जमा करने व निगम के वास्तविक पावना में अधिक अंतर मिला था। इसमें निगम के कर्मी की भूमिका भी संदेह के दायरे में है। अब जांच में होल्डिंग नंबर न लेने वाले व गलत जानकारी देकर वास्तविक से कम टैक्स जाम करने वाले सारे प्रतिष्ठान चिह्नित किए जा चुके हैं। इनमें श्याम अपार्टमेंट्स, प्रेम सुजुकी आदि भी है।

नगर निगम अब गड़बड़ी करने वाले सभी प्रतिष्ठानों से वर्ष 2010 से एरियर वसूलेगा। इसके लिए डिमांड नोटिस भेजने की प्रक्रिया भी पूरी कर ली गई है। सिटी मैनेजर एस आलम की मानें तो जांच रिपोर्ट सोमवार को नगर आयुक्त को सौंप दी गई है। गड़बड़ी से जुड़ी प्रतिष्ठानों की जियो टैग जांच रिपोर्ट के आधार पर मंगलवार से होगी। प्रथम चरण में लगभग बीस व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को जियो टैग के दायरे में रखा गया है। उसके बाद अन्य पर भी यही कार्रवाई होगी। वर्ष 2010 से एरियर के साथ बकाया टैक्स भी वसूला जाएगा। इसके लिए डिमांड नोटिस मंगलवार से भेजा जाएगा। बकाया व जुर्माना राशि जमा नहीं करने पर संबंधित पक्षकारों का अकाउंट फ्रिज किया जाएगा। सिटी मैनेजर के मुताबिक मंगलवार से निगम क्षेत्र के सभी विवाह भवन व बैंकक्वैट की भी मापी होगी।

अवैध होर्डिंग्स के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू : शहर में अनाधिकृत रूप से लगी होर्डिंग्स के खिलाफ भी नगर निगम ने कार्रवाई शुय कर दी है। इस कड़ी में मंगलवार को नगर निगम के फूड इंस्पेक्टर अनिल कुमार ने सोमवार को बिग बाजार के सामने कार्रवाई की। बिग बाजार के सामने सड़क के बीच डिवाइडर पर अवैध होर्डिंग्स लगाने के मामले में कपड़ों की दुकान कैनरी लंडन के संचालक के खिलाफ 25000 रुपये का जुर्माना किया गया है। यह दुकान बिग बाजार के अंदर है।

Edited By: Atul Singh