कतरास, जेएनएन। बाघमारा के विधायक ढुलू महतो और भाजपा की धनबाद जिला मंत्री कमला कुमारी के बीच जो एक साल से विवाद चल रहा है, इस मामले में जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह ने इंसाफ किया है। कमला कुमारी को पदमुक्त कर दिया है। सीधे कहें तो कमला को भाजपा से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। दूसरी तरफ पार्टी की छीछालेदकर कराने वाले विधायक ढुलू महतो से जिलाध्यक्ष ने सवाल पूछने तक की हिम्मत नहीं दिखाई है। यह है धनबाद जिला भाजपा और जिलाध्यक्ष का इंसाफ।

विधायक ढुलू महतो पर दुष्कर्म की कोशिश का आरोप लगानेवाली भाजपा की जिला मंत्री को पार्टी के जिलाध्यक्ष ने जिला मंत्री पद से मुक्त कर दिया है। उसके अलावा विनय सिंह तथा सुदाम गिरि पर पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए अनुशासनात्मक कार्रवाई की मांग की गई है। यह बात सोमवार को भाजपा कार्यालय में बाघमारा मंडल अध्यक्ष बच्चू राय तथा कतरास मंडल के महासचिव महेश पासवान, महुदा मंडल के महामंत्री शेखर सिंह ने पत्रकारों को दी। पत्रकार वार्ता में बाघमारा विधानसभा क्षेत्र के पदाधिकारी मौजूद थे।

पार्टी नेताओं ने कहा कि ये लोग न तो पार्टी के किसी कार्यक्रम में जाते हैं और न  पार्टी हित में काम करते हैं। कांग्रेसियों के इशारे पर काम कर रहे हैं। भाजपा नेता उदय सिंह को भी कोर कमेटी से हटा दिया गया है। शनिवार को मस्जिद पट्टी में विनय सिंह, भाजपा की जिला मंत्री कमला समेत अन्य विक्षुब्धों की बैठक पर सवाल उठाते हुए विधायक ढुलू महतो पर लगाए गए आरोपों की निंदा की गई। कहा कि बैठक बुलाने का अधिकार सिर्फ मंडल अध्यक्ष और महामंत्री को है। सिनीडीह मंडल अध्यक्ष राकेश सिंह, बीस सूत्री उपाध्यक्ष गुरमीत सिंह, अमित भगत, प्रकाश वर्मा, सुबोध पासवान, मुकेश झा, धर्मेंद्र गुप्ता, कुलवंत सिंह, श्यामकिशोर कल्लू, बबलू बनर्जी, रघनाथ हजारी, राजा खान, रवींद्र विजन, श्रीकांत सिंह, हुलास यादव, इंद्रदेव पासवान, बबलू मिश्र आदि  थे।

इधर विनय सिंह ने इस मामले में कहा कि 34 साल से पार्टी के लिए काम कर रहे हैं, जो लोग व्यक्तिवादी राजनीति कर रहे हैैं, वही लोग अनर्गल प्रलाप कर रहे हैं। प्रखंड व मंडल स्तर के कार्यक्रम में किसी प्रकार की सूचना नहीं मिलती है।

चंद्रशेखर सिंहः भाजपा जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि विधायक ढुलू महतो पर आरोप लगाने वाली महिला पदाधिकारी को पदमुक्त कर दिया गया है। विवाद के कारण यह कार्रवाई की गयी है। महिला पदाधिकारी को पदमुक्त करने का किसी प्रकार का पत्र नहीं दिया गया है। विनय सिंह, सुदाम गिरि अभी पार्टी के सदस्य हैं। इनके खिलाफ किसी प्रकार की शिकायत नहीं मिली है। विवाद में एक पक्षीय कार्रवाई के सवाल पर कहा कि कमला हमारी कमेटी में पदाधिकारी थीं, इसलिए पदमुक्त करने का मुझे अधिकार है। विधायक ढुलू पर कार्रवाई हमारे अधिकार क्षेत्र में नहीं आता है। विधायक पर कार्रवाई का निर्णय प्रदेश कमेटी ही ले सकती है।

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप