धनबाद : उपायुक्त संदीप सिंह ने बुधवार को शहीद हीरा कुमार झा के स्वजनों को भूमि के कागजात दिया। उपायुक्त ने शहीद हीरा झा की पत्नी बीनू झा के नाम से गोविदपुर अंचल के मौजा जियलगढ़ा में 12.5 डिसमिल आवासीय तथा गोविदपुर अंचल के मौजा गहीरा में तीन एकड़ कृषि योग्य भूमि के कागजात बीनू झा के पिता अशोक कुमार झा को प्रदान किया। इस दौरान शहीद झा के स्वजनों से बात करते हुए उपायुक्त ने कहा कि भविष्य में किसी भी प्रकार की परेशानी होने पर वे बेहिचक जिला प्रशासन के पास आ सकते हैं।

गौरतलब है कि धनबाद के गांधी नगर में रहने वाले शहीद हीरा कुमार झा चार जुलाई 2014 को बिहार के जमुई जिले के लखारी गांव में नक्सलियों के साथ हुए मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। वे 1999 में बतौर सहायक समादेष्टा केंद्रीय रिर्जव पुलिस फोर्स में जुड़े थे। गिरिडीह शहर के बेस कैंप में उन्हें सूचना मिली थी कि झारखंड - बिहार के सीमा पर नक्सली छिपे हुए है। इसके बाद वे नक्सिलयों का पीछा करते हुए पुलिस बल के साथ सीमावर्ती जमुई जिले के लखारी गांव में पहुंच गए। तभी नक्सलियों ने उनकी टीम पर दो तरफा अंधाधुंध फायरिग शुरु कर दी। जवाबी फायरिग में हीरा झा की कई गोलियां नक्सलियों को लगी। वहीं नक्सलियों द्वारा की गई फायरिग में वे शहीद हो गए। इस आपरेशन में कई मोस्ट वांटेड नक्सलियों को भी सीआरपीएफ ने गिरफ्तार किया था। सीआरपीएफ से पहले वे बीएसएफ में भी अपनी सेवा दे चुके थे। इस मौके पर एडीएम (ला एंड आर्डर) डा. कुमार ताराचंद, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार विभाग के संजय कुमार झा, आइटी रेवेन्यू रुपेश कुमार मिश्रा भी उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran