गोविंदपुर, जेएनएन। Positive India. Coronavirus के संक्रमण को रोकने के लिए 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है। 25 मार्च से जारी Lockdowon के कारण गरीब और जरूरतमदों के समक्ष विकट स्थिति आन पड़ी है। इनमें कुछ भिखारी भी शामिल हैं। इन्हें खाने के लिए होटलों का बचा खाना भी मिल जाता था। अब लॉकडाउन में कहां जाएं? भूख से मरने की स्थिति है। ऐसे जरूरतों का पेट भरने के लिए धनबाद पुलिस सामने आई है। पुलिस की तरफ से हर थाना के सामने सामुदायिक किचने खोला जा रहा है। यहां पर गरीबों और जरूरतमंदों के बीच भोजन परोसा जा रहा है। पुलिस का प्रयास यह है कि लॉकडाउन के दाैरान किसी को भुखे सोने की नाैबत नहीं आए। 

धनबाद पुलिस ने अपना मानवीय चेहरा दिखात हुए शनिवार को कई थानों के सामने सामुदायिक किचेन शुरू किया। गोविंदपुर थाना के सामने सामुदायिक किचने का एसएसपी किशोर काैशल ने शुभारंभ किया। उन्होंने अपने हाथों से गरीब और जरूरतमंदों के बीच भोजन परोसा। पुलिस की तरफ से सामुदायिक किचेन का संचालन लॉकडाउन की अवधि में होता रहेगा। इस माैके पर एसएसपी ने कहा कि कोविड-19 विश्वव्यापी महामारी है । इससे बचाव के लिए सरकार ने लॉक डाउन किया है। आप सबों के सहयोग से ही यह सफल होगा। उन्होंने लोगों से सामाजिक दूरी बनाए रखने एवं अन्य लोगों को भी प्रेरित करने का आह्वान किया। एसएसपी ने कहा कि लॉक डाउन के दौरान अपने अपने घरों में रहकर इसे सफल बनावे। ताकि हम कोरोना वायरस को हरा सके। 

35 थानों में होगा सामुदायिक किचने का संचालन 

एसएसपी ने कहा कि  सरकार किसी को भी भुखे मरने नहीं देगी। असहाय, मजबूर, बेघर, भिखारी, एक स्थान से दूसरे स्थान जा रहे लोग की सहायता के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर सामूहिक रसोई की शुरुआत की गई है। धनबाद जिले में इसके लिए कुल 35 थानों के पास स्थान चिन्हित किया गया है। शनिवार देर शाम तक सभी चिन्हित स्थानों पर सामूहिक रसोई की शुरुआत कर दी जाएगी। यहां दोपहर  एवं रात में खाने की व्यवस्था होगी। उन्होंने कहा कि इस योजना से वे लोग ही लाभ उठावें जो किसी भी कारण से मजबूर है। भोजन परोसने वह खाने के दौरान भी स्वच्छता एवं सामाजिक दूरी को बनाए रखें। पुलिस की मंशा किसी को परेशान करने की नहीं है। आम जनों की सुरक्षा के लिए हमें जो भी कदम उठाने होंगे वह उठाया जाएगा। इस दौरान सिटी एसपी आर रामकुमार, डीएसपी सरिता मुर्मू , इंस्पेक्टर रणधीर कुमार, समाजसेवी नंदलाल अग्रवाल, किशन अग्रवाल, बलराम अग्रवाल, अमरदीप सिंह, सपन भगत, नवीन भगत, बलराम साहू, ललित केजरीवाल, हरिओम बंसल, बाबू भगत,विक्रांत उपाध्याय, अनूप साहू, मनोज अग्रवाल, आदि उपस्थित थे।

राजगंज और बरोरा थाना के पास भी खुला सामुदायिक किचेन

शनिवार को राजगंज और बरोना थाना के सामने भी पुलिस की तरफ से जरूरतों के लिए सामुदायिक किचेन खोला गया। राजगंज में खिंचड़ी परोसा गया। जबकि बरोरा में दाल-भाज और सब्जी। 

Posted By: Mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस