धनबाद : एसएसएलएनटी महिला कालेज में इस साल फारेन लैंग्वेज की पढ़ाई शुरू होने की संभावना कम हो गई है। कालेज में स्पैनिश, जर्मन और फ्रेंच भाषा की पढ़ाई शुरू करने की योजना बनाई थी। इसके लिए आवेदन भी लिए गये। पर स्पैनिश भाषा को लेकर एक भी आवेदन नहीं आए जिस वजह से इसे बंद करने की घोषणा हो गई। अब जर्मन और फ्रेंच की पढ़ाई पर भी संकट के बादल मंडराने लगे हैं। दोनों विषयों के लिए 12-13 आवेदन आए थे। कालेज प्रशासन ने महिला कालेज में पुरुषों के लिए भी एडमिशन की इजाजत दी थी।

जनवरी के पहले सप्ताह से ही पढ़ाई शुरू होनी थी। इस बीच राज्य सरकार की पाबंदियों की वजह से पहले 15 जनवरी तक और अब 31 जनवरी तक आफलाइन कक्षाओं पर रोक लग गई। 31 जनवरी के बाद राज्य सरकार के निर्णय के तहत ही विवि प्रशासन कक्षाओं के संचालन का निर्णय लेगा। लिहाजा, फारेन लैंग्वेज में एडमिशन भी प्रभावित हो गया। कालेज प्राचार्य डा. शर्मिला रानी का कहना है कि आनलाइन कक्षाएं शुरू करने की योजना थी। पर एडमिशन को लेकर छात्र रुचि नहीं ले रहे हैं। ऐसे में फिलहाल कुछ कहा नहीं जा सकता है। बीबीएमकेयू में भी फारेन लैंग्वेज फ्लाप, नहीं आए आवेदन :

धनबाद : बीबीएमकेयू के पीजी विभाग ने भी फारेन लैंग्वेज के लिए आवेदन मांगा था। पर इस बार भी आवेदक नहीं मिले। सीटें खाली रह जाने से कई बार चांसलर पोर्टल के माध्यम से आवेदन की अनुमति दी गई। पर छात्रों ने इस कोर्स को तरजीह नहीं दी और इस बार भी फारेन लैंग्वेज फ्लाप रही। विवि की स्थापना के साथ ही तीन-चार वर्षाें से फारेन लैंग्वेज को लेकर अब तक सिर्फ तैयारियां ही चल रही हैं। फिलहाल सिर्फ पीके राय कालेज में फारेन लैंग्वेज का सर्टिफिकेट कोर्स संचालित है।

Edited By: Jagran