धनबाद, जेएनएन। झारखंड विधानसभा चुनाव- 2019 की घोषणा होने से पूर्व ही मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सत्ता में वापसी के लिए पूरी ताकत झोंक रखी है। वह सूबे की जनता को साधने के लिए जोहार जनआशीर्वाद यात्रा कर रहे हैं।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष गृहमंत्री अमित शाह ने 18 सिंतबर को जामताड़ा में पार्टी का झंडा दिखाकर मुख्यमंत्री को यात्रा पर रवाना किया था। यात्रा तीसरे चरण में पहुंच गया है। इस क्रम में मुख्यमंत्री रघुवर दास बुधवार को धनबाद आ रहे हैं। वह धनबाद जिले के निरसा विधानसभा क्षेत्र से जोहार जनआशीर्वाद यात्रा को आगे बढ़ाएंगे। धनबाद में दो दिन यानी 16 और 17 अक्टूबर को रहकर निरसा के साथ ही सिंदरी, झरिया, धनबाद, बाघमारा और टुंडी विधानसभा क्षेत्र की जनता के बीच जाकर भाजपा सरकार की उपलब्धियां को रखेंगे।

निरसा पर खास नजरः धनबाद जिले में छह विधानसभा क्षेत्र हैं। धनबाद, झरिया, निरसा, बाघमारा, सिंदरी और टुंडी। निरसा को छोड़कर शेष सभी विधानसभा सीट पर भाजपा गठबंधन का कब्जा है। निरसा ही एक मात्र ऐसी विधानसभा सीट है जहां आज तक भाजपा को सफलता नहीं मिला। 2014 के चुनाव में भाजपा प्रत्याशी गणेश मिश्र करीब हजार मतों के अंतर से चूक गए थे। अबकी भाजपा कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इसके लिए झारखंड प्रदेश भाजपा के प्रशिक्षण प्रमुख गणेश मिश्र ने खास रणनीति तैयार कर रखी है। इसी के तहत मुख्यमंत्री रघुवर दास धनबाद जिले में जोहार यात्रा का शुभारंभ निरसा विधानसभा क्षेत्र से करने जा रहे हैं। मिश्र के अनुसार मुख्यमंत्री 10.30 बजे जूनकूदर स्थित ब्रह्ममैदान में हेलिकॉप्टर से उतरेंगे। जनसबा को संबोधित करने के बाद जोहार जनआशीर्वाद यात्रा के लिए तैयार रथ पर सवार होंगे। रथ से चिरकुडा, कुमारधुबी, ग्यारकुंड, मुगमा और निरसा होते हुए सिंदरी विधानसभा क्षेत्र में प्रवेश करेंगे।

उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल के प्रभारी ने लिया जायजाः मुख्यमंत्री की यात्रा को सफल बनाने के लिए उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल के भाजपा प्रभारी विनय लाल ने मोर्चा संभाल रखा है। उन्होंने मंगलवार को जूनकूदर जाकर सभास्थल पर तैयारियों का जायजा लिया। उनके साथ भाजपा जिलाध्यक्ष चंद्रशेखर सिंह, महामंत्री संजय झा, चिरकुंडा परिषद के उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह, मानस प्रसून, संजय सिंह, अनिल यादव थे।

नजर पर चढ़ने के लिए छिड़ा होर्डिंग वारः मुख्यमंत्री रघवुर दास दो दिन तक धनबाद में रहेंगे। उनके नजर में चढ़ने के लिए टिकट के दावेदार अपने-अपने हिसाब से जुगत भिड़ा रहे हैं। इस कारण शहर में होर्डिंग वार और प्रचार युद्ध छिड़ गया है। बैनर और प्रचार सामग्रियों से चाैक-चाैराहे को पाट दिया गया है।

 

Posted By: Mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप