धनबाद, जेएनएन। धनबाद में दिन-प्रतिदिन आपराधिक घटनाओं में वृद्धि होती जा रही है।हत्या, लूट, डाकेजनी और रंगदारी वसूली आम बात हो गई है। आपराधिक घटनाओं से अशांत धनबाद की गूंज पुलिस के कान तक नहीं पहुंच रही है। अबकी अपराधियों का निशाना बने हैं मसाला व्यापारी चेतन सिंघल। वह गोली से घायल होने के बाद अस्पताल में जिंदगी और माैते से जूझ रहे हैं। पुटकी थाना क्षेत्र के करकेंद मोड़ के समीप शनिवार की रात मसाला कारोबारी चेतन सिंघल को बाइक सवार अपराधियों ने गाली मार दी। जख्मी व्यवसायी को आनन-फानन में लोग जोड़ाफाटक रोड स्थित शक्ति नर्सिग होम ले गए। वहां प्राथमिक इलाज के बाद जालान अस्पताल रेफर कर दिया गया है।
विक्की डोम का नाम आया सामनेः घटनास्थल से पुलिस ने अपराधियों की एक पल्सर बाइक बरामद की। छानबीन के दौरान पुलिस ने घटनास्थल से खोखा भी बरामद किया। घटना में पांच अपराधियों के शामिल होने की बात कही जा रही है। पुलिस मामले की तफ्तीश में जुटी है। घटना की सूचना पाकर मौके पर ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर भी पहुंचे और पूरे मामले की छानबीन की। घटना में विक्की डोम का नाम सामने आ रहा है। पुलिस ने सचिन यादव, विक्की डोम के पिता टुनटुन व अन्य दो युवकों को घर से हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। जख्मी व्यवसायी धोवाटांड़ के गणपति अपार्टमेंट में रहते हैं। चेतन के पिता रामअवतार सिंघल करकेंद्र के पुराने व्यवसायी हैं और उनका दुर्गा मार्केट में कपड़े की दुकान है।
मुंह में कपड़ा बांधकर आए अपराधीः शनिवार की रात मसाला व्यवसायी चेतन सिंघल चास से तगादा कर करकेंद स्थित पंजाब होटल के सामने अपनी मसाला फैक्ट्री पहुंचे। उस वक्त उनकी फैक्ट्री में स्टाफ राजन कुमार सिंह व सोनू कुमार मौजूद था। चेतन फैक्ट्री में हिसाब-किताब मिला रहे थे और राजन फैक्ट्री के बाहर खड़ा था। दूसरा कर्मचारी सोनू फैक्ट्री के अंदर था। इसी बीच, 9:20 बजे दो बाइक पर सवार पांच युवक मुंह पर कपड़ा बांधकर अचानक फैक्ट्री की गली में आ धमके। दो अपराधियों ने बाहर खड़े कर्मचारी राजन कुमार सिंह को हथियार का भय दिखाकर कब्जे में ले लिया और उसे फैक्ट्री के अंदर ले आया। वहां दूसरे कर्मचारी सोनू को भी अपराधियों ने गन प्वाइंट के निशाने पर ले लिया। इस दौरान कमरे में हिसाब कर रहे चेतन के रूम में घुसकर अपराधी लॉकर तथा कैश काउंटर खंगालने लगा। कैश काउंटर में दस से 12 हजार रुपये रखा हुआ था, जिसे अपराधियों ने निकाल लिया। इसके बाद चेतन के विरोध करने पर अपराधियों ने गोली मारने की धमकी दी और चेतन को बाहर ले आए। उसके बाद अपराधियों ने चेतन पर फायर कर दिया। गोली चेतन के दाहिने पंजरे को छेदते हुए बाहर निकल गई। गोली लगने के बाद चेतन गिर गए और सभी अपराधी भागने लगे।
भागते वक्त एक बाइक हो गयी खरीबः तीन अपराधी एक बाइक पर बैठ गए थे, जो पंजाब होटल के सामने से मेन रोड पकड़ कर निकल गए। वहीं दो अपराधी जो पल्सर से आए थे, उसकी गाड़ी खराब हो गई। अपराधियों ने गाड़ी ठीक करने की भी कोशिश की। जब बाइक ठीक न हुई तो दोनों पैदल ही माड़ी गोदाम होते हुए भाग निकले। घटना के अपराधियों के उसी पल्सर को पुलिस ने बरामद किया। पल्सर में नंबर नहीं है। आशंका है कि घटना को अंजाम देने के लिए ही नंबर प्लेट खोला गया है। नंबर खोलने के निशान भी हैं। पुलिस अब इंजन व चेसिस नंबर के आधार पर गाड़ी मालिक का पता लगाने में जुट गई है। इधर, व्यवसायी जालान अस्पताल में इलाजरत है और खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं।अस्पताल में जुटे व्यवसायी जख्मी व्यवसायी से मिलने के लिए करकेंद व धनबाद के दर्जनों व्यवसायी जालान अस्पताल पहुंचे। देर रात तक यहां व्यवसायियों का जमावड़ा लगा रहा। सभी चेतन के बारे में पूछताछ करते रहे। आइसीयू में जाकर व्यवसायी से बात भी की। जालान अस्पताल में सिटी एसपी पीयूष पांडे व्यवसायी का बयान लेने के लिए पहुंचे।