धनबाद, जेएनएन।  जम्मू के साबा में पाकिस्तानी गोलीबारी में गिरिडीह के पीरटांड़ निवासी बीएसएफ जवान सीताराम उपाध्याय शहीद हो गए। वे गिरिडीह के पीरटाड़ के रहने वाले थे। गोलीबारी में धनबाद, आसनबनी के मिश्राडीह निवासी प्रवीण मिश्रा भी जख्मी हुए हैं। उन्हें इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। मोदी सरकार के फैसले ने ली मेरे पति की जान: शहीद सीताराम उपाध्याय की पत्नी रेशमा का रो-रोकर बुरा हाल है। कुछ दिन पहले ही जवान घर आया हुआ था। पति की शहादत के बाद मोदी सरकार पर बरसते हुए पत्नी ने कहा कि सरकार के सीजफायर के फैसले के कारण उसके पति की जान गई है।

सरकार यदि यह फैसला नहीं लेती तो शायद आज उसके पति जिंदा होते। घटना की जानकारी मिलने के बाद गिरिडीह के पालगंज में मातम पसरा है। मिट्टी के घर में रहता है परिवार, सीएम ने जताई संवेदना: गिरिडीह के नक्सल प्रभावित पीरटांड़ प्रखंड में मिट्टी के घर में जवान का परिवार रहता है। मौत के बाद सीएम रघुवर दास ने ट्वीट कर संवेदना जताई है। उन्होंने ट्वीट में लिखा है कि जम्मू कश्मीर सीमा पर झारखंड के वीर सपूत सीताराम उपाध्याय जी देश के सरहद की रक्षा करते हुए शहीद हो गए। ईश्वर उनके परिवार को यह असहनीय दुख सहने की शक्ति दे। पाकिस्तान की इस कायराना हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। शहीद सीताराम जी को विनम्र श्रद्धांजलि।