गोमिया (बेरमो), जेएनएन। बोकारो जिले के बेरमो अनुमंडल के आइईएल थाना क्षेत्र में कपड़ा दुकानदार अपने स्टॉफ अफजल सिद्दीकी पर काफी भरोसा करता था। लेकिन वह विश्वासघाती निकला। उसने ऐसा काम कर डाला जिसके बार में दुकानदार ने कभी सोचा भी न था। दुकानदार द्वारा दर्ज कराई गई प्राथमिकी के बाद बोकारो पुलिस ने हजारीबाग से अफजल को धर दबोचा। उसके खिलाफ अपहरण और पोक्सो एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने गुरवार को तेनुघाट जेल भेज दिया। 

क्या है मामला

अफजल सिद्दीकी आइईएल थाना क्षेत्र के एक कपड़ा दुकान में काम करता था। इस दाैरान उसकी गंदी नजर दुकानदार की 15 वर्षीय बेटी पर पड़ गई। उसे प्रेम जाल में फंसाया। फिर लेकर भाग निकला। इस संदर्भ में कपड़ा व्यवसायी ने आइईएल थाना में नौ जून को आवेदन देकर पुलिस को बताया था कि आठ जून की मध्य रात्रि उनकी बेटी घर से लापता हो गई। उन्होंने अपनी दुकान में करने वाले युवक अफजल सिद्दीकी पर पुत्री का अपहरण कर ले जाने का आरोप लगाया था। उनके आवेदन के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लड़की व अपहरणकर्ता की तलाश शुरू कर दी थी। 

हजारीबाग से लड़की बरामद

बुधवार को पुलिस को सूचना मिली कि लड़की के साथ अपहरणकर्ता हजारीबाग में है। इसके बाद हजारीबाग पुलिस की सहायता से आइईएल थाना की पुलिस ने लड़की को वहां से बरामद कर अपहरणकर्ता को गिरफ्तार कर लिया। आइईएल थाना प्रभारी आशीष कुमार ने बताया अपहरणकर्ता अफजल सिद्दीकी के विरुद्ध अपहरण सहित पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। उसे जेल भेज दिया गया है और लड़की को उसके पिता को सुपुर्द कर दिया गया है। इधर, आरोपित युवक का कहना है कि उसने लड़की का अपहरण नहीं किया। वह उससे प्रेम करता है, इसलिए वह उसे शादी करने के लिए अपने साथ भगाकर हजारीबाग ले गया था।

Edited By: Mritunjay