जागरण संवाददाता, कतरास: भ्रष्‍टाचार निरोधक ब्यूरो धनबाद की टीम ने शुक्रवार को कतरास थानेदार विनोद उरांव के बॉडीगार्ड सतेंद्र सिंह को 4000 हजार रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया। टीम उसे अपने साथ धनबाद ले आई।

छेड़खानी की शिकायत मामले में केस मजबूत बनाने के नाम पर मांग रहा था रुपये: जानकारी के अनुसार, छातबाद कैलुडीह खटाल निवासी रवींद्र यादव ने छेड़खानी के एक मामले में 8 मई को कतरास थाने में लिखित शिकायत दी थी। दूसरे दिन द्वितीय पक्ष ने भी लिखित शिकायत थाने में दी। थाने में दोनों पक्षों की शिकायत पर अलग अलग कांड अंकित किया गया था। कांड अंकित होने के 20 दिन बाद उक्त बॉडीगार्ड रवींद्र यादव के घर जा पहुंचा और केस मजबूत बनाने के नाम पर 6000 रुपये की मांग की। कहा- रुपये दो वरना साहब से कह कर जेल भिजवा दूंगा। वह हर तीन-चार दिन के बाद घर पर जाता था और पैसे की मांग करता था। गरीबी और आर्थिक तंगी की बात कहने पर वह पहले 5000 हजार तक आया और कहा कि इससे कम नही लेंगे। बाद में आरजू मिन्नत करने पर 4000 पर राजी हो गया था। रवींद्र ने इसकी सूचना भ्रष्‍टाचार निरोधक ब्यूरो कार्यालय में दी। शिकायत के सत्यापन के बाद एसपी द्वारा गठित टीम ने स्थानीय रेलवे माल गोदाम के पास आरोपित को रुपये लेते रंगे हाथ धर दबोचा। बताया जाता है कि जिस मामले में आरोपित ने पैसे की मांग की थी, वह केस डिस्पोजल हो चुका था।

Posted By: Deepak Kumar Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप