संस, तिसरा : बिनोद बिहारी महतो कोयलांचल विश्वविद्यालय के उद्घाटन के शिलापट् पर सिदरी के विधायक इंद्रजीत महतो का नाम अंकित नहीं होने से नाराज भाजपा कार्यकर्ताओं ने शनिवार को एमओसीपी में कुलपति डा अंजनी कुमार श्रीवास्तव का पुतला फूंक कर विरोध प्रकट किया। बलियापुर पश्चिम मंडल कमेटी की ओर से आयोजित कार्यक्रम में जिला महामंत्री निताई रजवार, युवा मोर्चा के मंत्री अरविद सिंह उपस्थित थे। निताई ने कहा कि यह एक सोची समझी साजिश है। वर्तमान सरकार व कुलपति ने विधायक इंद्रजीत के नाम को हटा दिया है। यह गलत है।

सिदरी विधानसभा में विश्वविद्यालय है और यहां के विधायक का नाम अंकित नहीं होना समझ से परे है। मुख्यमंत्री के खिलाफ भी लोगों ने खूब नारे लगाए। निताई ने कहा कि यहां की जनता के दिल में विधायक हैं। उनका नाम नहीं देने के कारण इलाके की जनता में आक्रोश है। यह आंदोलन तब तक जारी रहेगा, जब तक गलती को सुधारा नहीं जाएगा। कहा कि वर्तमान राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल है। विकास का कोई काम नहीं हो रहा है। जो वादा करके सरकार आई थी, वह भी पूरा नहीं कर रही है। भाजपा सभी वर्गों के लोगों को लेकर चलती है। उनका विकास करना हमारा मकसद है। अभी तो केवल पुतला दहन हुआ है। आने वाले दिन में जिला मुख्यालय से लेकर प्रत्येक जगह इसके खिलाफ जोरदार आंदोलन होगा।

मौके पर अध्यक्ष मंटू रवानी कुलदीप साव, अशोक महतो, जयराम रवानी, बिरंची सिंह, मुक्तेश्वर महतो, तारा बाउरी आदि थे।

-----------------

विधायक का नाम नहीं होना प्रोटोकॉल का उल्लंघन : तारा

विधायक इंद्रजीत महतो की पत्नी तारा देवी ने कहा कि शिलापट में विधायक का नाम अंकित नहीं करना प्रोटोकाल का उल्लंघन है। जो भी लोग दोषी हैं उन पर कार्रवाई होनी चाहिए। सोमवार तक यदि विधायक का नाम उस पर नहीं अंकित हुआ तो पूरे जिले में धरना, प्रदर्शन करेंगे।

Edited By: Jagran