जासं, झरिया : जयरामपुर कोलियरी कार्यालय के समक्ष बिहार कोलियरी कामगार यूनियन समर्थक मजदूरों ने मांगों को लेकर शनिवार को प्रदर्शन किया। प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। चेतावनी दी कि मजदूरों की मांगें पूरी नहीं हुई तो आंदोलन को और तेज किया जाएगा। बिहार कोलियरी कामगार यूनियन लोदना के क्षेत्रीय सचिव शिव कुमार सिंह ने कहा कि प्रबंधन मनमानी तरीके से काम कर रहा है। यहां के मजदूरों का रेगुलाइजेशन नहीं किया जा रहा है। जनरल मजदूरों को अन्य काम में भेजा जाता है।

वर्षों से मजदूरों की पदोन्नति नहीं की गई है। यहां जाब रजिस्टर भी नहीं है। एसएलपी प्रमोशन का मुद्दा प्रबंधन की लापरवाही से ठप पड़ा हुआ है। अंडर ग्राउंड के मजदूरों से सरफेस में काम लिया जा रहा है। उनका अंडर ग्राउंड भत्ता काट दिया जा रहा है। सरफेस में काम करने की चिट्ठी मजदूरों को आज तक नहीं दी गई है। कोल नेट सिस्टम को हटाकर निजी कंपनी की ओर से सेप के माध्यम से मजदूरों को वेतन पर्ची भेजी जा रही है। सेप से वेतन पर्ची भेजने के कारण काफी गड़बड़ी हो रही है। सैकड़ों मजदूर परेशान हैं।

मजदूरों को अवकाश प्राप्ति के छह- सात महीने बाद भी ग्रेच्युटी का भुगतान नहीं हो रहा है। जल्द मांगों का समाधान नहीं हुआ तो आंदोलन को और तेज किया जाएगा। उन्होंने देशव्यापी 23-24 फरवरी 2022 को होने वाली हड़ताल में मजदूरों से एकता का परिचय देते हुए उसे ऐतिहासिक बनाने की अपील की। अध्यक्षता जगत प्रसाद सिंह व संचालन सुनील कुमार पासवान ने किया। प्रदर्शन में संतोष रजक, धर्मेंद्र राय, सुरेंद्र पासवान, सुरेश पासवान, बाबूलाल ठाकुर, हीरालाल गहलोत, राजू महतो, सुरेश पासवान, बालकरण रविदास, रोबिन चक्रवर्ती,

हारून दास, राजकुमार साव, सुरेंद्र पासवान, गुल्लू मांझी, बिपिन पासवान आदि थे।

Edited By: Atul Singh