धनबाद, जेएनएन। नए वर्ष के आगाज के साथ मुनीडीह के भाटिंडा फॉल में पिकनिक मनाने के लिए सैलानियों का तांता लगने लगा है। धनबाद जिला मुख्यालय से लगभग 16 किमी दूर मुनीडीह भाटिंडा फॉल की मनोरम छटा काफी निराली है। पत्थरों से होकर बहते पानी की कलकल आवाज सैलानियों को आकर्षित करता है। पुटकी राज्य के प्रमुख पर्यटन स्थलों में शुमार है। इधर कुछ वर्षों से भाटिंडा को पर्यटन स्थल के रूप पहचान देने के लिए कई योजनाएं शुरू की गई है। बच्चों के मनोरंजन के लिए आकर्षक झूले और खेलकूद के इंतजाम किए गए हैं।स्थानीय जन प्रतिनिधियों द्वारा लगातार विभिन्न योजनाओं के तहत कार्य किये गये हैं जिसमें बच्चों के खेल कुद के लिए झुला का निर्माण, शौचालय,चैंजिंग रुम,बैठने के लिए छतरी,सामुदायिक भवन के अलावे बडे कार्यक्रमों के लिए बड़े सेड का भी निर्माण कराया गया है। जहां पर जरुरत पडने पर लोग विवाह समेत अन्य बड़े कार्यक्रम भी संपन्न करा सकते हैं।

जानें भाटिंडा जलप्रपात के बारे मेंः भाटिंडा में पिकनिक मनाने का सिलसिला वर्षो पुराना इतिहास बताया जाता है।कि ग्रामीण के अनुसार भाटिंडा फॉल में देश आजादी के पूर्व से भाटिंडा बाबा की पुजा अर्चना पूस के महीने में धान कटाई के बाद किया जाता था। जिसमें भाटिन बाबा के पुजा अर्चना के बाद ग्रामीण संयुक्त रुप से लोग भाटिन बाबा स्थल पर संयुक्त रूप से भोज का कार्यक्रम में शामिल होते थे। और यह सिलसिला ग्रामीणों में आज भी जारी है। हालांकि यहां आने वाले पर्यटकों की तादाद विगत 30 वर्षों से लगातार बढती ही जा रही है। 

झारखंड व पश्चिम बंगाल से पहुंचतें पर्यटकः यहां घुमने व पिकनिक मनाने आने वालों का धनबाद कोयलांचल के साथ साथ झारखंड के विभिन्न जिलों के अलावे आसनसोल,बराकर,दुर्गापुर, रानीगंज, कोलकाता, रांची, टाटा,बोकारो, गिरीडीह, पुरुलिया आदि क्षेत्रों से काफी संख्या में पर्यटन यहां पिकनिक मनाने यहाँ पहुंचते हैं। साथ ही यहां की देखभाल व सफाई व्यवस्था सुरक्षा की जिम्मेवारी भाटिंडा में संचालित विनोद बिहारी स्मारक समिति भाटिंडा टेटंगाबाद के द्वारा की जाती है।

संदीप कुमार महतो अध्यक्ष,विनोद बिहारी स्मारक समिति भाटिंडा टेटंगाबाद ने बताया कि इस वर्ष भाटिंडा में पिकनिक व घुमने आने वाले पर्यटकों के लिए समिति की ओर से पुरी सुरक्षा के प्रदान की जायेगी। इस वर्ष समिति की ओर से 60 से 70  वोंल्नटियर की टीम को सुरक्षा व लोगों को किसी भी प्रकार परेशानी नहीं उठानी पडे इसके लिए लगाया जायेगा। जो 25 दिसंबर से जनवरी माह तक सक्रिय रुप से काम करेगें। साथ ही उन्होंने बताया कि गोताखोरों की टीम को गहरे पानी के स्थान पर तैनाती के साथ साथ टेटंगाबाद व मंझलाडीह के रास्तों पर वाहनों से लगने जाम से निजात दिलाने के लिए समिति के कार्यकर्ता मुस्तैद रहेगें।

उमेश कुमार महतो सचिव, विनोद बिहारी महतो स्मारक समिति ने बताया कि समिति की ओर से भाटिंडा फॉल की सफाई व रंग रोगन का कार्य कराया जा रहा है। तथा यहां आने वाले सैलानियों की सुरक्षा  के साथ साथ उन्हें किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए समिति के कार्यकर्ता सक्रिय रूप से काम करेगें। 

Posted By: mritunjay

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस