जागरण संवाददाता, धनबाद। रेलवे की लाख कोशिशों के बावजूद पार्सल में गड़बड़ी नहीं सुधर रही है। पार्सल बाबू की मिलीभगत से बिना वजन कराए ही सैकड़ों किलो सामान ट्रेन से दूसरे राज्यों में भेजे जा रहे हैं। इससे पार्सल में बैठे बाबुओं की जेब भारी हो रही है और रेलवे को चूना लग रहा है। पार्सल बाबू की मिलीभगत से हो रही गड़बड़ी का खुलासा एक बार फिर हावड़ा से जबलपुर जा रही शक्तिपुंज एक्सप्रेस में ही हुआ है। एंटी फ्रॉड स्क्वाड के छापे में शक्तिपुंज एक्सप्रेस से 242 किलो बिना बुक कराया सामान पकड़ा गया है। अभियान में शामिल रेलवे वाणिज्य विभाग के अधिकारियों ने बिना बुक कराए सामान ले जाने के लिए जुर्माना और माल भाड़ा के तौर पर ₹2675 वसूला। इससे पहले भी जुलाई महीने में शक्तिपुंज एक्सप्रेस में ही छापेमारी कर बड़े पैमाने पर बिना बुक कराए गए सामान ले जाने का खुलासा हुआ था। छापेमारी के दूसरे दिन रेलवे अधिकारियों की टीम राजधानी समेत दूसरी ट्रेनों को खंगालने भी स्टेशन पहुंची थी। पर सूचना लीक हो जाने से राजधानी समेत दूसरी ट्रेनों में कोई गड़बड़ी नहीं मिली थी।

कम ठहराव वाले स्टेशन के लिए भी हो रही बुकिंग

पार्सल बाबू की मनमानी रेलवे में इस तरह हावी है कि वह नियम कानून को भी ताक पर रखते हैं। रेलवे ने यह नियम तय कर रखा है कि वैसे स्टेशन जहां ट्रेनों का ठहराव कम से कम 5 मिनट है वहीं पार्सल अनलोड होंगे या वहीं के लिए पार्सल की बुकिंग कराई जा सकेगी। पर पार्सल कर्मचारी नियमों को ठेंगे पर रख 2 मिनट ठहरा वाले स्टेशनों के लिए भी पार्सल बुक कर रहे हैं और उन स्टेशनों पर सेटिंग कर पार्सल अनलोडिंग भी किया जा रहा है। पार्सल बुकिंग से रेलवे को आमदनी हो रही है। लिहाजा, अफसर भी इसकी अनदेखी कर रहे हैं।

बिना इंश्योरेंस भेज सकते हैं बाइक, चढ़ावा देना होगा

पार्सल से बाइक या दोपहिया भेजने के लिए सभी कागजात जरूरी है। बाइक का इंश्योरेंस ना हो तो उसे पार्सल से नहीं भेज सकते हैं। पर पार्सल बाबू को मना लिया तो आपकी परेशानी दूर हो सकती है। बिना इंश्योरेंस या दूसरे कागजात ना होने पर भी दोपहिया पार्सल से भेज सकते हैं। इसके लिए पार्सल बाबू को किराए के साथ अलग से चढ़ावा देना होगा।

Edited By: Mritunjay