धनबाद, जेएनएन। सभी सरकारी बैंक चार दिन तक लगातार बंद रहेंगे। इससे ग्राहकों को परेशानी होगी। हालांकि कैश के लिए ग्राहकों को परेशान होने की जरूरत नहीं है। एटीएम में कैश मिलते रहेंगे। एटीएम में कैश खत्म होने की स्थिति में परेशानी हो सकती है। चार दिन तक बैंक बंद रहने की वजह महीने का दूसरा शनिवार, साप्ताहिक अवकाश और हड़ताल है।

किस-किस दिन बंद रहेंगे बैंक

गुरुवार 11 मार्च को महाशिवरात्रि की वजह से देश के झारखंड, उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे उत्तर भारत के राज्यों में बैंकों में अवकाश था। शुक्रवार को बैंक खुला।  13 मार्च को महीने का दूसरा शनिवार है। जिसकी वजह से बैंकों में कामकाज नहीं होगा। रविवार यानी 14 मार्च को भी बैंक बंद रहेंगे। फिर 15 और 16 मार्च को बैंक की हड़ताल है। जिसकी वजह से भी बैंक बंद रहेंगे। यानी बैंक 4 दिन तक बंद रहेगा। 

जानें क्यों हो रही है हड़ताल

बैंकों के मर्जर और केंद्र सरकार की नीतियों के विरोध में बैंककर्मी हड़ताल कर रहे हैं। यूनाइटेड फोरम के संयोजक प्रभात चौधरी ने बताया कि सरकारी बैंकों को प्राइवेट बनाने की योजना का सभी कर्मचारी विरोध कर रहे हैं। इसी वजह से बैंक कर्मचारियों एवं अधिकारियों के यूनियन ने आगामी 15 और 16 मार्च को हड़ताल पर जाने का नोटिस दिया है। हड़ताल की घोषणा यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन ने किया है। इसमें कर्मचारियों एवं अधिकारियों के नौ संगठन शामिल है। इसके अलावा ग्रामीण बैंक भी इस हड़ताल में शामिल हो गया है। नौ बैंक यूनियन के केंद्रीय संगठन यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस ने यह बंद बुलाया है। इस हड़ताल की वजह से सरकारी बैंकों का कामकाज काफी प्रभावित होगा। हड़ताल का असर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के कामकाज पर भी देखने को मिलेगा। 

एटीएम में होगी कैश की व्यवस्था

जिला अग्रणी प्रबंधक नकुल साहू ने बताया कि बैंकों के बंद की स्थिति को देखते हुए सभी बैंकों के एटीएम का संचालन करने वाली एजेंसियों को निर्देश दिया गया है कि एटीएम में कैश की व्यवस्था पर निगरानी रखें। जहां भी कैश की कमी होती है उसे तुरंत भर दे ताकि लोगों को परेशानी न हो।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप